Home > Archived > अपने योगदान से खुश हैं अजिंक्य रहाणे

अपने योगदान से खुश हैं अजिंक्य रहाणे

अपने योगदान से खुश हैं अजिंक्य रहाणे



मुंबई।
मौजूदा आईपीएल में वह भले ही बड़ी पारियां नहीं खेल पा रहे हों लेकिन राइजिंग पुणे सुपरजाइंट्स के सलामी बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे अपने योगदान से खुश हैं। रहाणे अभी तक दसवें सत्र में सिर्फ एक अर्धशतक 48 गेंद में 60 रन बना सके हैं जो पांच अप्रैल को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ बनाया था। रहाणे ने कल मुंबई इंडियंस के खिलाफ मिली जीत के बाद प्रेस कांफ्रेंस में कहा, मैं अपनी बल्लेबाजी से खुश हूं। विकेट पर समय बिताना अहम है। फिलहाल मैं गेंद को बखूबी पीट रहा हूं और खुश हूं। हम जब तक जीत रहे हैं, मैं अपने योगदान से खुश हूं। उन्होंने कहा, टेस्ट से टी20 प्रारूप में ढलना मानसिक संयोजन की बात है और मैने वह बखूबी किया।

मुंबई को आखिरी ओवर में 17 रन चाहिए थे लेकिन बायें हाथ के तेज गेंंदबाज जयदेव उनादकट ने उन्हें जीत से वंचित कर दिया। आखिरी ओवर शरदुल ठाकुर की बजाय उनादकट को देने का कारण पूछने पर उन्होंने कहा, 19वें ओवर के बाद जब स्मिथ, मैं और माही भाई महेंद्र सिंह धोनी बात कर रहे थे कि किसे गेंद सौंपी जाए तो हमने उनादकट पर सहमति जताई। शरदुल के पास रफ्तार है लेकिन हम बल्लेबाजों को वह रफ्तार देना नहीं चाहते थे। उन्होंने कहा, जयदेव अपेक्षाकृत धीमा गेंदबाज है और विकेट भी धीमा था । रोहित क्रीज पर जम चुका था और हम उसे वह रफ्तार देना नहीं चाहते थे ।

Share it
Top