Top
Latest News
Home > Archived > त्यौहार हमारी सामाजिक और सांस्कृतिक एकता का प्रतीक: उच्च शिक्षा मंत्री

त्यौहार हमारी सामाजिक और सांस्कृतिक एकता का प्रतीक: उच्च शिक्षा मंत्री

त्यौहार हमारी सामाजिक और सांस्कृतिक एकता का प्रतीक: उच्च शिक्षा मंत्री

ग्वालियर। प्रदेश में उच्च शिक्षा, लोक सेवा प्रबंधन एवं जन शिकायत निवारण मंत्री जयभान सिंह पवैया ने कहा कि हिंदुस्तान त्योहारों का देश है, त्योहार हमको सामाजिक और संस्कारिक रूप से जोड़ने का काम करते हैं। हमारी सांस्कृतिक और संस्कारिक एकता ही भारत की अखण्डता का मूल आधार है। उन्होंने यह बात रविवार शाम को ग्वालियर में आयोजित होली मिलन समारोह के दौरान कही। पवैया ने हजीरा सब्जीमण्डी के विकास के लिये विधायक निधि से दो लाख रुपए की राशि प्रदान करने की घोषणा भी की।

पवैया ने कहा कि त्योहार हमारी संस्कृति का अभिन्न अंग है। यह हमें आपस में जोड़ने के साथ-साथ आनंदित करने का काम भी करते हैं। इसी मूल अवधारणा को स्वीकार करते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने होली के त्योहार को सभी आमजन के साथ मनाने का निर्णय लिया और प्रदेश के सभी जनप्रतिनिधियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में जनता के साथ त्योहारों के माध्यम से सीधा संवाद स्थापित किया जा रहा है। मंत्री ने कहा कि विदेशी शक्तियों द्वारा देश की सांस्कृतिक एकता को तोड़ने का प्रयास किया जाता रहा है। जिससे संस्कारविहीन समाज निर्मित हो और भारत दुनिया में अपनी पहचान खो दे। लेकिन इन विदेशी शक्तियों के प्रयास भारत की सांस्कृतिक एकता और भाईचारे की परंपराओं ने नकार दिया और आज भारत दुनिया में अपनी एकता और अखण्डता और अस्मिता के लिये अलग पहचान रखता है। उन्होंने सभी वर्गों से सभी त्योहारों को मिलजुलकर मनाने और खुशियाँ बांटने की सलाह भी दी।

Next Story
Share it
Top