Home > Archived > लोकतंत्र को मजबूत करना है तो मतदाता को भी जागरूक बनना होगा

लोकतंत्र को मजबूत करना है तो मतदाता को भी जागरूक बनना होगा

अमित सेंगर, मुरैना

पंजाब और गोवा में शनिवार को मतदान के साथ यूपी में शनिवार को मतदान के साथ चुनाव प्रक्रिया अपने प्रथम दौर में शुरू हो गई हैं। राज्यों के ये चुनाव परिणाम निर्णायक साबित होंगे चुनाव प्रचार के दौरान राजनीतिक दल विकास और बदलाव की बातें करके जनता को लुभाने का प्रयास करते हैं। उनके साथ कई प्रकार के वायदे भी किये जाते हैं किन्तु सच्चाई कुछ और ही होती हैं खासतौर पर उत्तरप्रदेश के चुनावो में जातिगत आधार पर वोट बैंक बढ़ाने के लिए पार्टियों के बीच होड़ सी लग जाती हैं मतदाता भी स्वयं को जातिगत और धार्मिक आधारों पर वोट देता है लेकिन इस चुनाव प्रक्रिया में जीत जनता की नहीं,बल्कि राजनीतिक दल की होती हैं।

राजनीतिक पार्टियाँ अपनी पार्टी को वोट दिलाने के लिए कई तरह के हथकंडे अपनाती हैं जिस तरह की जाति पर आधारित उम्मीदवार, वोट के लिए पैसे बाँटना या उनके साथ लोक लुभावने वादा करना। इससे देश व खुद को बहुत नुकसान पहुँचता हैं चुनाव आयोग जब तक इस बात की जांच करता है या किसी भी प्रकार का एक्शन ले तब तक चुनाव की प्रक्रिया भी खत्म हो जाती है चुनावों में हर एक राजनीतिक दल अपना घोषणा पत्र जनता के बीच पेश करता है जिसे चुनाव के वक्त जनता के साथ किया गया करार कहा जा सकता है किन्तु राजनीतिक पार्टियाँ चुनाव जीतने के बाद यह करार बड़े आराम से तोड़ देती हैं हर पार्टी प्रचार प्रसार में अपनी विरोधी पार्टी को नीचा दिखती हैं आरोप प्रत्यारोप लगाने व अभद्र तरह की टिप्पणियाँ करने में कोई कसर नहीं छोड़ते हैं आज भी हम फिर इसी तरह की चुनाव प्रक्रिया से गुजर रहे हैं।

आज राजनीति और देश की अर्थव्यवस्था को अलग करके नहीं देख जा सकता है दो दशकों से भी ज्यादा का समय व्यतीत हो गया है इसमें आर्थिक सुधारो के वाजिब लाभ प्राप्त नहीं हो सके है तो आज उसकी वजह राजनीतिक सुधारों का न होना ही है आगे आने वाले दस सालों में यदि विश्व की तीन प्रमुख आर्थिक शक्तियों में अपनी ठोस जगह बनानी हैं तो हमे पहले राजनीतिक सुधार भी लाने होंगे यह ऐसे संभव हो सकता हैं यदि मतदाता जागरूक रहकर सत्ता में आने वाली राजनीतिक पार्टी को अपने घोषणा पत्र में किये वादे याद दिलाकर उनको निभाने पर मजबूर करें । जिससे लोकतंत्र को मजबूत बनाया जायेगा और इससे मतदाता भी जागरूक बनेगा ।

Share it
Top