Home > Archived > अब सीए एंट्रेस पास करना नहीं होगा आसान

अब सीए एंट्रेस पास करना नहीं होगा आसान

अब सीए एंट्रेस पास करना नहीं होगा आसान

इंदौर। अगर आप भी सीए की तैयारी कर रहे हैं तो ध्यान दें। क्योंकि अब चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने की राह आसान नहीं रही। इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया (आईसीएआई) ने सीए की प्रवेश प्रक्रिया के साथ ही कोर्स में बदलाव किया है। इस बदलाव के बाद अब सीए बनना बेहद कठिन हो गया है।

गौरतलब है कि अब तक माना जाता था कि सीए एंट्रेस तो बेहद आसान है, लेकिन बाद में स्टूडेंट खुद को इसमें फंसा महसूस करता है। जबकि अब एंट्रेस पास कर पाना ही बड़ी बात होगी। कोर्स को ज्यादा वैश्विक और इंटरनेशनल अकाउंटिंग स्टैंडर्ड के अनुरूप बना दिया गया है।

इंस्टिट्यूट के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीए नीलेश एस. विकामसे ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि बदलाव से कोर्स में प्रवेश कठिन हो जाएगा। इस प्रक्रिया के बाद अब उनका इनपुट-आउटपुट अनुपात बेहतर हो जाएगा।

अब 200 का नहीं 400 अंक का होगा ऑब्जेक्टिव

इंस्टिट्यूट अध्यक्ष ने हाल ही में यह ऐलान किया है कि हमने सीपीटी को फाउंडेशन कोर्स में बदल दिया है। पहले 200 अंकों का ऑब्जेक्टिव पेपर होता था। अब इसे 400 अंकों का कर दिया गया है। इसमें भी 200 अंकों का ऑब्जेक्टिव और 200 का सब्जेक्टिव पेपर होगा। इसके अलावा इंडस्ट्री ने कुछ सुझाव दिए हैं, उनके आधार पर कुछ नए विषय जोड़े गए हैं। इनमें बिजनेस इकोनॉमिक्स और जनरल फाइनेंशियल नॉलेज विशेष जैसे सब्जेक्ट शामिल है। फाइनल में पहले आईटी का 100 अंकों का पर्चा होता था, जिसे अब प्रैक्टिकल में शिफ्ट कर दिया गया है।

रिसर्च के बाद किए ये बदलाव

उन्होंने बताया कि छात्रों की पसंद से एक ऐच्छिक पेपर भी इस कोर्स में जोड़ा गया है। बताया जा रहा है कि तीन साल की रिसर्च के बाद ये बदलाव किए गए हैं। सीए एसोसिएशन ने यह रिसर्च की है।

Share it
Top