Home > Archived > वर्ष 2018 : तीन सूर्य और दो खग्रास चंद्र सहित पड़ेंगे पांच ग्रहण

वर्ष 2018 : तीन सूर्य और दो खग्रास चंद्र सहित पड़ेंगे पांच ग्रहण

वर्ष 2018 : तीन सूर्य और दो खग्रास चंद्र सहित पड़ेंगे पांच ग्रहण


इंदौर।
वर्ष 2018 में इस बार तीन सूर्य और दो चंद्र सहित पांच ग्रहण होंगे। तीनों सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं देंगे। इसके साथ ही हिंदू पंचाग के मुताबिक अंग्रेजी साल में 13 महीने होंगे। ऐसा इसलिए होगा की तीन साल में एक बार आने वाला पुरुषोत्तम मास के आने से हो रहा है। इसके चलते दो ज्येष्ठमास आएंगे। ज्योर्तिविदों के मुताबिक यह साल देश के लिए उन्नतिकारक और व्यापारियों के लिए लाभदायक होगा।

अंग्रेजी साल की शुरूआत 1 जनवरी को सोमवार जबकि समापन भी 31 दिसंबर सोमवार को होगा। शिव आराधना के सोमवार को शीतलता प्रदान करने वाला माना जाता है। पहली तारीख को मृगशिरा नक्षत्र में चतुर्दशी को होगी। इस मौके पर मिथुन राशि में चंद्रमा और सूर्य धनुराशि में रहेगा। यह संयोग शुभ फल प्रदान करता है।

ज्योर्तिविद् पं. ओम वशिष्ठ ने बताया कि हिंदू पंचांग के मुताबिक आने वाले वर्ष 2018 में एक ही वर्ष में 13 महीने होंगे, लेकिन इससे अंग्रेजी कैलेंडर में कोई फर्क नहीं आएगा। यह सब होगा सिर्फ हिंदू पंचांग के तहत दो ज्येष्ठ माह होने से।

खास बात यह रहेगी कि अंग्रेजी कैलेंडर के हिसाब से साल के 365 दिन और 12 माह के बीच ही तिथियों की घटा-बढी में ये दो ज्येष्ठ और इसके 13 माह समाहित रहेंगे। वर्ष 2018 में ज्येष्ठ तो 30 अप्रैल से प्रारंभ हो जाएगा, लेकिन अधिकमास की अवधि 16 मई से 13 जून तक रहेगी। इसे पुरुषोत्तम मास भी कहा जाता है। हर तीसरे वर्ष में अधिकमास होता है।

इन तारीखों पर पडेंगे ग्रहण

-पहला चंद्रग्रहण 31 जनवरी को 3 घंटे 23 मिनिट का अश्लेषा नक्षत्र और कर्क राशि में लगेगा।
-दूसरा चंद्र ग्रहण 27 जुलाई को 3 घंटे 55 मिनित का होगा जो श्रवण नक्षत्र व मकर राशि में होगा।
-पहला खंडग्रास सूर्य ग्रहण 15 फरवरी को भारतीय समय अनुसार 12.25 बजे लगेगा।
-दूसरा खंडग्रास सूर्य ग्रहण 13 जुलाई को सुबह 7.19 बजे शुरू होगा।
-तीसरा सूर्यग्रहण 11 अगस्त को दोपहर 1.32 बजे से होगा। ग्रहण का सूतककाल 9 घंटे पहले लगता है।

Share it
Top