Home > Archived > देशभर के छात्रों को डिजिटल शिक्षा पद्धति से जोड़ने की पहल : प्रकाश जावड़ेकर

देशभर के छात्रों को डिजिटल शिक्षा पद्धति से जोड़ने की पहल : प्रकाश जावड़ेकर

देशभर के छात्रों को डिजिटल शिक्षा पद्धति से जोड़ने की पहल : प्रकाश जावड़ेकर

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने देश के सभी विश्वविद्यालयों एवं विश्वविद्यालय स्तर की संस्थाओं से उच्च शिक्षा डिजिटल कार्य योजना 2017 के आंकड़े अखिल भारतीय उच्च शिक्षा सर्वे के पोर्टल पर पेश करने को कहा है। इसका आशय आधुनिक शिक्षा के बदलते वैश्विक प्रारूप के अनुरूप अच्छा प्रदर्शन करने वाली संस्थाओं की पहचान करना है।

गौरतलब है कि मानव संसाधन विकास मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, सभी विश्वविद्यालय या विश्वविद्यालय स्तर की संस्थाओं को 15 नवंबर तक एआईएसएचई पोर्टल पर डिजिटल एक्शन प्लान 17:17 से संबंधित आंकड़े पेश करने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि इस दिशा में मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने हाल ही में देश के सभी विश्वविद्यालयों के कुलपतियों को पत्र लिखा है। जावड़ेकर ने अपने पत्र में कहा कि 9 जुलाई 2017 को आयोजित राष्ट्रीय डिजिटल पहल सम्मेलन में उच्च शैक्षणिक संस्थाओं में 17 सूत्री कार्य योजना मंजूर की गई थी जिसे दिसंबर 2017 तक लागू किया जाना है।

हम आपको बता दें कि उच्च शिक्षा के लिये डिजिटल पहल में तय कार्य योजना में स्वयं, स्वयं प्रभा, नेशनल डिजिटल लाइब्रेरी, राष्ट्रीय अकादमिक निक्षेपागार जैसे शीर्षकों के तहत 17 सूत्री कार्यक्रम तय किये गए थे । इसके अलावा स्वच्छ परिसर, स्मार्ट कैम्पस, डिजिटल कैम्पस पर भी जोर दिया गया है। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने कहा है कि सभी संस्थाएं और संबद्ध कॉलेज तत्काल राष्ट्रीय डिजिटल लाइब्रेरी पहल का हिस्सा बने। इससे छात्रों को नि:शुल्क डिजिटल संसाधनों तक पहुंच उपलब्ध हो सकेगी। डिजिटल पहल में तय कार्य योजना में राष्ट्रीय शैक्षणिक डिपॉजिटरी योजना को भी जोड़ा गया है। और मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने देशभर के छात्रों को डिजिटल शिक्षा पद्धति से जोड़ने की पहल के तहत प्रमुख कदम उठाने की बात कही है। जावड़ेकर ने कहा है कि आने वाले वर्षों में देश के सभी स्कूलों में ऑपरेशन डिजिटल ब्लैक बोर्ड को लागू किया जाएगा।

Share it
Top