Home > Archived > सकारात्मक विचार ही सफलता की कुंजी

सकारात्मक विचार ही सफलता की कुंजी

सकारात्मक विचार ही सफलता की कुंजी

-ड्रीम वैली में पॉजिटिव प्रोवोकेशन पर साप्ताहिक सेमीनार आयोजित
ड्रीम वैली महाविद्यालय में साप्ताहित सेमीनार के अंतर्गत लर्निंग पीडिया की श्रृंखला में पॉजिटिव प्रोवोकेशन पर सेमीनार आयोजित किया गया, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित प्रबंधन विभागाध्यक्ष पंकज दुबे ने अपने उद्बोधन में कहा कि शिक्षक में विद्यार्थियों की उत्तेजना को सकारात्मक रूप में बदलने का गुण विशेष रूप से होना चाहिए। 15 से 30 वर्ष तक के मनुष्य सामान्यत: जल्दी उत्तेजित हो जाते हैं। यदि उनकी उत्तेजना को सकारात्मक कार्य की ओर ले जाया जाए तो उसके सफल होने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि समाज का व्यक्ति हो अथवा किसी संस्था का विद्यार्थी, उसमें नकारात्क और सकारात्मक दोनों ही प्रकार का दृष्टिकोण पाया जा सकता है। वह अपने जीवन में अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सके इसके लिए उसे सकारात्मक उकसाना (पॉजिटिव प्रोवोकेशन) एक विशेष ऊर्जा का काम करती है। उन्होंने कहा कि कभी भी व्यक्ति पर नकारात्मकता विचार हावी नहीं होना चाहिए क्योंकि सकारात्मक विचार ही व्यक्ति की सफलता की पृष्ठ भूमि बनाते हैं। इस अवसर पर श्रोताओं के रूप में उपस्थित शिक्षकों और विद्यार्थिओं ने अपने प्रश्नों का उत्तर भी पाया।

Share it
Top