Home > Archived > हिमाचल विस चुनाव : कांग्रेस ने तोडा यह नियम

हिमाचल विस चुनाव : कांग्रेस ने तोडा यह नियम

हिमाचल विस चुनाव : कांग्रेस ने तोडा यह नियम

शिमला। हिमाचल प्रदेश विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपने उम्मीदवारों की दूसरी और तीसरी (अंतिम) सूची जारी की। इन दोनों सूचीयों में हिमाचल प्रदेश के सीएम के बेटे और राज्य के स्वास्थ्य मंत्री की बेटी का नाम शामिल है। बताया जा रहा है कि उन्हें शिमला ग्रामीण से टिकट मिला है जहां से इस समय वीरभद्र विधायक हैं। कांग्रेस उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी होने के कुछ ही घंटे बाद पार्टी ने तीसरी एवं अंतिम सूची जारी की। जिसमे राज्य के स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह की बेटी चंपा ठाकुर का नाम था। चंपा मंडी से चुनाव लड़ेंगी। इससे पहले दूसरी सूची में आठ उम्मीदवारों का नाम घोषित किया गया। इसमें अन्नी सुरक्षित सीट के लिए बंसीलाल की जगह पारस राम का नाम शामिल किया गया। सूची के मुताबिक, केवल सिंह पठानिया (शाहपुर), आशीष बुटैल (पालमपुर), हरिचंद शर्मा (मनाली), सुरेंद्र सिंह ठाकुर (कुल्लू), विवेक शर्मा (कुटलेहर), लखविंदर राणा (नालगढ़) और दीपक राठौर (थ्योग) प्रत्याशी होंगे। कांग्रेस के 59 उम्मीदवारों की पहली सूची 18 अक्टूबर को जारी की गई थी।

हम आपको बता दें कि हिमाचल विधानसभा में कुल 68 सीट हैं। नामांकन की अंतिम तिथि 23 अक्टूबर है। चंपा ने शनिवार को मंडी सीट पर आजाद उम्मीदवार के तौर पर पर्चा भरा था। इस मौके पर उन्होंने कहा था कि राज्य इकाई ने इस सीट के लिए केवल उनका नाम भेजा है, इसलिए उन्हें पूरा यकीन है कि उन्हें टिकट मिलेगा। वह अभी आजाद उम्मीदवार के तौर पर पर्चा भर रही हैं। टिकट के औपचारिक ऐलान के बाद चंपा बतौर कांग्रेस उम्मीदवार नामांकन करेंगी।

गौरतलब है कि मंडी से भाजपा ने अनिल शर्मा को टिकट दिया है जिन्होंने हाल में वीरभद्र सिंह की सरकार में मंत्री पद और कांग्रेस से इस्तीफा दिया है। चंपा के पिता स्वास्थ्य मंत्री कौल सिंह मंडी जिले की दारांग सीट से प्रत्याशी हैं। पार्टी नेताओं का कहना है कि पार्टी प्रत्याशियों के रिश्तेदारों को टिकट नहीं देना चाहती थी क्योंकि यह पार्टी के एक परिवार एक टिकट फार्मूले के खिलाफ है।

Share it
Top