Home > Archived > तुला राशि से साढ़े साती होगी खत्म

तुला राशि से साढ़े साती होगी खत्म

तुला राशि से साढ़े साती होगी खत्म

शनि 26 को वृश्चिक से धनु राशि में करेंगे प्रवेश
क्या गुल खिलाएगा शनि का धनु राशि में प्रवेश


ग्वालियर।
शनि ढाई साल बाद अब 26 जनवरी को शाम 7.30 बजे वृश्चिक से धनु राशि में प्रवेश करेंगे। शनि के राशि परिवर्तन से तुला राशि पर चल रही साढ़े साती खत्म हो जाएगी, जबकि मकर राशि पर शुरू होगी। शनि 23 जनवरी 2020 तक धनु राशि में रहेंगे। इसके अलावा वृश्चिक राशि वालों के लिए शनि की साढ़े साती का अंतिम दौर प्रारंभ हो जाएगा और वृषभ और कन्या राशि की ढैय्या प्रारंभ हो जाएगी। ज्योतिषाचार्य पं सतीश सोनी के अनुसार शनि से घबराने की जरूरत नहीं है। शनि न्याय प्रिय देवता हैं। यह लोगों को कर्म के अनुसार फल देते हंै।

क्या होगा असर शनि के राशि परिवर्तन से
श्री सोनी के अनुसार धनु राशि शनि की सम राशि है। धनु अग्नि तत्व की राशि है और शनि वायु तत्व का ग्रह है। अग्नि तत्व की राशि वायु तत्व की राशि में जाने से अग्नि का भड़काव होगा, इस दौरान अचानक दुर्घटनाओं में इजाफा होगा, सरकार की तरफ से शिक्षा के क्षेत्र में अच्छे कदम उठाए जाएंगे।

इनकी शुरू होगी साढ़े साती-ढैय्या
मकर राशि : साढ़े साती शुरू होगी।
वृषभ-कन्या : ढय्या शुरू होगा।
इनकी खत्म होगी साढ़े साती-ढय्या
*तुला राशि : साढ़े साती खत्म होगी।
*मेष और सिंह : ढय्या खत्म होगा।
ये करें शनि से साढ़े साती या ढैय्या से ग्रसित जातक
शनिदेव स्तोत्र का पाठ, हनुमानजी की आराधना।
*जरूरतमंद, गरीब, असहाय लोगों की मदद।
*पीपल के पेड़ में जल-दीपदान करना।
किस राशि पर कैसा प्रभाव
*मेष- भाग्यवर्धक, उन्नति कारक
*वृषभ-नवीन कार्य, यात्रा के योग
*मिथुन-आध्यात्मिक और आर्थिक विकास के अवसर
*कर्क-राज योग
*सिंह-वैवाहिक योग, उन्नति कारक समय
*कन्या-शत्रु परास्त, वाहन सुख
*तुला-रूके कार्य पूर्ण होंगे
*वृश्चिक-भौतिक सुख सुविधाओं में वृद्धि
*धनु-धन,यश और बुद्धि की वृद्धि होगी
*मकर-विवाद से बचे, धन का अपव्यय
*कुंभ-धन का लाभ, नवीन कार्य
*मीन-हर कार्य में सफलता

Share it
Top