Top
Latest News
Home > Archived > टोक्यो में मिलने के वादे के साथ ओलंपिक का समापन

टोक्यो में मिलने के वादे के साथ ओलंपिक का समापन

टोक्यो में मिलने के वादे के साथ ओलंपिक का समापन

टोक्यो में मिलने के वादे के साथ ओलंपिक का समापन

रियो डी जनेरियो। ब्राजील के रियो शहर में 16 दिन तक चले 31वें ओलंपिक खेलों का समापन टोक्यो में मिलने के वादे के साथ हुआ। मारकाना स्टेडियम में हुए समापन समारोह की शुरुआत कलाकारों के ओलंपिक रिंग्स और क्राइस्ट द रिडिमर की वर्चुअल इमेज बनाने से शुरू हुई। इसके बाद मेजबान देश ब्राजील का नेशनल एंथम बजाया गया।

इसके बाद शुरू हुआ ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले 206 देशों के खिलाड़ियों का मार्च पास्ट। मार्च पास्ट की शुरुआत हमेशा की तरह ओलंपिक खेलों को शुरू करने वाले देश ग्रीस के प्लेयर्स से हुई। इस दौरान ब्राजील और जापान का खिलाड़ियों का ग्रुप एक साथ स्टेडियम में आया। क्योंकि अगले ओलंपिक के लिए मेजबानी ब्राजील से लेकर जापान को दी गई। समापन समारोह में भारत की तरफ से कुश्ती में कांस्य पदक जीतने वाली साक्षी मलिक ने भारतीय ध्वज थामा।

वहीं रंगारंग कार्यक्रमों में ब्राजील की सभ्यता, संस्कृति और वहां मौजूद विविधताओं की झलक दिखाई दी। समापन समारोह के दौरान गीत-संगीत और डांस प्रोग्राम्स भी हुए। इस दौरान ब्राजील का पारंपरिक संगीत भी सुनाई दिया। इस दौरान उन हजारों वोलेंटियर्स को भी स्पेशल थैंक्स कहा गया, जिनकी कड़ी मेहनत से करीब दो हफ्ते तक ये प्रोग्राम सफलतापूर्वक चला।

रराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) के अध्यक्ष थामस बाक ने स्थानीय समयानुसार रविवार रात 10।30 बजे (भारतीय समयानुसार सोमवार सुबह 7 बजे) माराकाना स्टेडियम में टोक्यो में 2020 में मिलने के वादे के साथ इन खेलों का समापन किया। टोक्यो को 2020 ओलंपिक की मेजबानी दी गई है और उसने अपने प्रधानमंत्री शिंजो एबे के नेतृत्व में 32वें ओलंपिक खेलों की तैयारियों की अपनी झलक पेश की। बाक ने इस दौरान रियो के मेयर एडवडरे पेस से ओलंपिक झंडा लेकर टोक्यो की मेयर (गवर्नर) यूरीकी कोइके को सौंपा।

Next Story
Share it
Top