Home > Archived > केरल में हिंसा रोकने के लिए येचुरी आगे आएं : नंदकुमार

केरल में हिंसा रोकने के लिए येचुरी आगे आएं : नंदकुमार

केरल में हिंसा रोकने के लिए येचुरी आगे आएं : नंदकुमार

केरल में हिंसा रोकने के लिए येचुरी आगे आएं : नंदकुमार



नई दिल्ली केरल में लंबे अरसे से हो रही हिंसा पर चिंता व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रचार प्रमुख जे. नंदकुमार ने माकपा महासचिव सीताराम येचुरी से आग्रह किया है कि वे आगे आकर हिंसा को रोकने मदद करें। जानकारी हो कि केरल में एक्जिट पोल में माकपा गठबंधन की सरकार बनने की भविष्यवाणी के बाद से ही राज्य में माकपा विरोधी दलों पर हिंसक वारदातें बढ़ी हैं। महिलाओं सहित लोगों पर हमले हुए। घर जलाए गए। वाहनों को तहस-नहस कर दिया गया। केरल के नवागत मुख्यमंत्री पी विजयन के अकेली गृह पंचायत पिनरई में अब तक माकपा कार्यकर्ताओं ने 48 घरों पर हमला बोला है। ओन्जियाम में हमारे महिला सहित कार्यकर्ताओं पर आरपीएम के लोग जानवरों सा वर्ताव कर रहे हैं। इन सब के बावजूद पुलिस वहां मूकदर्शक बनी हुई है। श्री कुमार ने कहा कि केरल में हिंसा की इस प्रवृत्ति को रोकने के लिए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी को खुद आगे आकर उस पर विराम लगवाना चाहिए। इस संदर्भ में मैं सीताराम येचुरी को चुनौती देता हूं कि वे सांसदों के प्रतिनिधिमंडल सहित मीडियाकर्मियों को कन्नूर की पिनरई पंचायत भेजें ताकि पता चले कि पिछले सप्ताह में वहां अब तक क्या-क्या हुआ है? देश आखिर सच्चाई जानना चाहता है।

श्री कुमार ने येुचरी से आग्रह किया है कि पिनरई पंचायत में एक विशिष्ट दल भेजकर वहां हालिया सचाई को जानें। उन्होंने कहा कि केरल का हर शख्स जानता है कि बिना माकपा के इजाजत के उन जागीरों में कोई भी प्रतिनिधिमंडल प्रवेश नहीं कर सकता।


Share it
Top