Home > Archived > कराहल में बैंकों की तालाबंदी एवं घेराव कलकराहल में बैंकों की तालाबंदी एवं घेराव कल

कराहल में बैंकों की तालाबंदी एवं घेराव कलकराहल में बैंकों की तालाबंदी एवं घेराव कल

पूर्व मंत्री के नेतृत्व में आदिवासी करेंगे घेराव

कराहल। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया शाखा कराहल सहित अन्य शाखाएं मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में आदिवासियों को लोन नहीं दे रही हैं, जिससे शासन की मंशा पर तुषारापात हो रहा है। बैंकों की मनमानी के विरोध में आदिवासी 30 मार्च को बैंकों का घेराव करेंगे।

सहरिया विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष (राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त) मुकेश मल्होत्रा ने प्रेस को जारी एक विज्ञप्ति में बताया कि आदिवासी-हरिजन बेरोजगारों को एसबीआई कराहल एवं अन्य शाखाएं मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में लोन नहीं दे रही हैं। आवासहीनों को मुख्यमंत्री ग्रामीण आवास स्वीकृत नहीं किए जाते हैं। एक तरफ सरकार गरीबों के हितों में कई तरह की योजनाएं चला रही हैै। वहीं दूसरी ओर बैंकों के अधिकारी शासन की योजनाओं को पलीता लगाने पर आमादा हैं।

इसी वजह से आदिवासी वर्ग परेशान है। आदिवासियों की इन्हीं परेशानियों को मद्देनजर रखते हुए 30 मार्च को बैंकों का घेराव कर न केवल तालाबंदी की जाएगी, बल्कि अनिश्चितकालीन धरना भी शुरू किया जाएगा। श्री मल्होत्रा ने आदिवासी समाज से इस घेराव, तालाबंदी में अधिक से अधिक संख्या में भागीदारी की अपील की है।

Share it
Top