Home > Archived > होली पर्व को प्रेम एवं सौहार्दपूर्ण शांति से मनायें - जिलाधिकारी

होली पर्व को प्रेम एवं सौहार्दपूर्ण शांति से मनायें - जिलाधिकारी

बुलन्दशहर | जिलाधिकारी श्रीमती बी0 चन्द्रकला की अध्यक्षता में होली पर्व को शान्तिपूर्वक तरीके से मनाने के लिए आज जिला पंचायत सभागार में शहर के विभिन्न गणमान्य नागरिकों के साथ बैठक आहूत की गई। जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों एवं गणमान्य नागरिकों को होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं देते हुए कहा कि होली पर्व को शान्तिपूर्वक सौहार्दपूर्ण, भाईचारे के साथ अपने परिवार के साथ मनायें।

त्यौहार को वास्तविक रूप से जोड़ते हुए उसके महत्व को समझते हुए धर्म एवं जाति सम्प्रदाय से उठकर मनायें। छोटी-छोटी बातों को तूल प्रदान न करें तथा किसी के साथ जबरजस्ती से रंग न लगायें और यह भी ध्यान रखें कि सामने वाला व्यक्ति किसी बीमारी से भी पीडित हो सकता है। उन्होंने कहा कि हमें छोटी चीडिय़ा बनकर नहीं रहना है, हमें चील बनकर विचरण करना है तथा सभी पर तीव्र दृष्टि रखनी है। यह पर्व हमें आपस में भाईचारा, गिले शिकवे को दूर कर प्यार से रहना सिखाता है। हमें सभी धर्मो का सम्मान करते हुए पर्व को शान्ति से मनाना है। उन्होंने यहां यह भी अपील की कि अपने बच्चों को नशे से दूर रखें, उन्होंने कहा कि राम नहीं आते तो रमजान नहीं होते है, और जहां अली नहीं आते है वहां दीपावली नहीं होती है।

इसके साथ ही उन्होंने सभी सम्प्रदाय के लोगों से आग्रह किया कि होली पर्व को खुश मिजाज में मनाने में शासन एवं प्रशासन को सहयोग प्रदान करें। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री पीयूष श्रीवास्तव ने होली पर्व पर सभी लोगों से शान्तिपूर्वक त्यौहार को मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को जबरजस्ती रंग अथवा पानी से भरा गुब्बारा नहीं मारना है। यदि ऐसा करते हैं तो ऐसे लोगों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि मोटरसाईकिल पर तीन अथवा व्यक्ति चलने की दशा में उनकी विडियोग्राफी कराकर के उनके विरूद्ध कार्यवाही कर जेल भेज दिया जायेगा। अत: आप लोग प्रशासन की मदद करके एक मिशाल प्रस्तुत करें।

Share it
Top