Home > Archived > अधिवक्ताओं ने होली मिलन समारोह में गले मिलकर दीं एक दूसरे को शुभकामनायें

अधिवक्ताओं ने होली मिलन समारोह में गले मिलकर दीं एक दूसरे को शुभकामनायें

फिरोजाबाद। इनकम टैक्स ट्रेड टैक्स बार एसोसियेशन फिरोजाबाद के तत्वावधान में होली मिलन समारोह का आयोजन कुलदीप मिततल एडवोकेट की अध्यक्षता में किया गया। चंदन का तिलक लगाकर, परंपरागत खुशबूदार गुलाल लगाकर व गले मिलकर और प्रेम में पगी चाट खिलाकर सभी ने एक दूसरे को होली की शुभकामनायेें दी। एसोसियेशन के अध्यक्ष कुलदीप मित्तल एडवोकेट ने समारोह का संचालन करते हुये होली की शुभकामनाओं की शुरुआत कुछ इस तरह की

ऑखों में खुशी लवों पे हॅसी, गम का कहीं कोई नाम न हो।
आप जहॉ की खुशियॉ मिले और खुशियों की क्रभी शाम न हो।।

उन्होने कहा कि इस तरह के आयोजन से हमारी संस्कृति और परंपरायें जीवित रहती है, जिनकी इस बदलते परिवेश में अत्यंत आवश्यकता है। उन्होने शुभकामनायें देते हुये कहा कि होली हमारी संस्कृति की परिचायक है, इसे सादगी से मनाकर आपसी सदभाव और प्रेम मोहब्बत बनाये रखना चाहिये। सभी को कैमीकलयुक्त गीले रंगों से न खेलकर सूखे गुलाल से ही होली खेलनी चाहिये। इस अवसर पर पूर्व अध्यक्ष दीनदयाल अग्रवाल ने युवा अधिवक्ताओं को होली की पारंपरिक कहानी सुनाते हुये बताया कि किस तरह भक्त प्रहलाद की होलिका से रक्षा हुई। उन्होने कहा कि होली बुराई पर अच्छाई की जीत है इसलिये हमें बुराइयों से सदैव बचे रहना चाहिये। अपनी संस्कृति और अपने बुजुर्गों व गुरुओं का सम्मान करना कभी नही भूलना चाहिये। बरिष्ठ अधिवक्ता बिमल चंद जैन ने अपने अनुभव साझा करते हुये बताया कि पुराने जमाने में लोग बहुत ही शालीनता के साथ होली खेलते थे, अब तो लोग दुश्मनी निकालने के लिये खेलते है। ऐसे लोगों से सावधान रहें और त्यौहार को उमंग व उल्लास से मनायें।

महासचिव कमल गुप्ता ने कहा कि आज की व्यस्तता भरी जिंदगी में इस तरह के आयोजन से मन प्रफुल्लित हो जाता है, कुछ समय के लिये तनाव से भी निजात मिल जाती है। समारोह के अंत में सभी उपस्थित सदस्यों ने एक दूसरे को गुलाल लगाकर व गले मिलकर होली की शुभकामनायें दी इस मौके पर बिशिष्ट अतिथि सिविल बार एसोसियेशन के पूर्व अध्यक्ष राजेन्द्रसिंह यादव ने गॉवों की होली के संबध में अपने संस्मरण सुनाते हुये कहा कि होली सादगी से लेकिन उमंग व उत्साह से मनायें।

इस अवसर पर मुकेश दुबे ने फिल्मी गीत सुनाकर और योगेन्द्र सिंह ने चुटकलों की झड़ी सुनाकर सभी को आनंद बिभोर कर दिया। अनिल गर्ग, विजय जैन आदि ने भी संस्मरण सुनाये। समारोह में विजय कुमार जैन, विनोद बंसल, अनिल गर्ग, कृष्णलाल गुप्ता, निखिल बंसल, रुपेंद्र सिह, मुकेश दुबे, महाराना सम्राट गुप्ता, विजय प्रकाश शर्मा, पंकज गुप्ता, संजय गुप्ता, योगेन्द्र सिंह, खली कुज्जमा खॉ, नितिन जैन, मोहित गुप्ता, प्रिंस बंसल, प्रवीन पचौरी, राजकुमार शुक्ला आदि उपस्थित थे।

Share it
Top