Home > Archived > अनिश्चितकालीन धरना दूसरे दिन भी रहा जारी, सेवाएं हुईं प्रभावित

अनिश्चितकालीन धरना दूसरे दिन भी रहा जारी, सेवाएं हुईं प्रभावित

संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने सांसद को सौंपा ज्ञापन

मुरैना। नियमितीकरण, संविलियन सहित नौ सूत्रीय मांगों को लेकर संघर्षरत संविदा स्वास्थ्य कर्मियों ने मंगलवार को मुरैना पहुंचे सांसद अनूप मिश्रा को ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री के नाम सौंपे गए ज्ञापन में मांगों को शीघ्र पूरा करने की मांगें की है।
ज्ञापन में कहा गया कि एनआरएचएम सहित अन्य महत्वपूर्ण परियोजनाओं में 35 हजार से अधिक संविदा कर्मचारी कार्यरत है. ज्ञापन में रिक्त पदों के लिए नई भर्ती न कर समकक्ष पदों पर कार्यरत कर्मियों का संविलियन, नियमितीकरण किया जाए|

वर्ष 2013 से 2015 तक के वार्षिक वेतन अभिवृद्धि का भुगतान एक माह के अंदर किए जाने, आदर्श मानव संसाधन नीति का निर्माण किए जाने, संविदा महिला कर्मियों को चाइल्ड केयर लीव का लाभ दिए जाने, ईपीएफ का लाभ दिए जाने, डाटा इंट्री ऑपरेटर का भुगतान लक्ष्य पूर्ति के आधार पर न किए जाने, परियोजना अवधि तक किसी भी कर्मचारी का सेवा से पृथकीकरण न किए जाने की मांगें भी ज्ञापन में रखी गई. ज्ञापन सौंपने वालों में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र सिकरवार, जिला संयोजक नवप्रीत सिंह, सचिव विजय तिवारी, महेशदत्त गर्ग, अवधेश शर्मा, श्रीमती सविता श्रीवास्तव, सुनीता भदौरिया, रामकुमार गोयल, सरिता जैन, गरिमा जैन, रवि गर्ग, दीपक सिंहल, मधु श्रीवास, मोहन दीक्षित, बृजेश राजपूत, प्रद्युम्न डण्डौतिया शामिल रहे|


हड़ताल से स्वास्थ्य सेवाओं पर असर
संविदा स्वास्थ्य कर्मियों की हड़ताल से स्वास्थ्य सेवाऐं प्रभावित हो रही है. कॉल सेंटर सहित एसएनसीयू व पीआईसीयू की सेवाऐं चरमरा गई है. क्षय रोग कार्यालय, रोशनी क्लीनिक बंद पड़े है. एमसीटीएस अभियान के ठप होने के साथ ही टीकाकरण कार्यक्रम पर भी हड़ताल का असर पड़ा है।

Share it
Top