Home > Archived > तीन कन्याओं का कराया विवाह

तीन कन्याओं का कराया विवाह

हाथरस। आदर्श शिक्षा मित्र वेलफेयर एसोसियेसन के जिलाध्यक्ष बृजेश वशिष्ठ ने तृतीय बैच के चतुर्थ सेमेस्टर की प्रयोगात्मक परीक्षाओं के आंतरिक मूल्यांकन प्रपत्र समय से ब्लॉकों के द्वारा डाइट प्राचार्य का प्रेषित न करने के कारण परीक्षा परिणाम घोषित न होने के रूप में जिले के शिक्षामित्रों को रवामियाजा भुगतान पड़ रहा है।

उन्होंने कहा है कि डाइट प्राचार्य के द्वारा समस्त खण्ड शिक्षा आधिकारियों को विगत दिनों पहले समय से 6 मार्च तक आंतरिक मूल्यांकन प्रपत्र भेजने के लिखित में दिशा-निर्देश जारी किये गये थे किन्तु आज तक नगर क्षेत्र हाथरस, सिकन्द्राराऊ व हसायन ब्लाकों से ही डाइट कार्यालय को अंक प्रेषित किये गये हैं, जबकि सचिव, परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय से 10 मार्च तक अंकप्रेषित करने को डाइट प्राचार्यों को लिखित में दिशा निर्देश जारी हुये थे। इसी प्रकार अब तक किसी भी ब्लॉक से शिक्षा मित्रों की फरवरी माह की उपस्थिति प्रमाणित करके सहायक वित्त एवं लेखाधिकारी (सर्वशिक्षा अभियान) व वित्त एवं लेखाधिकार (बेसिक) कार्यालय में प्राप्त नहीं करायी गयी है, जिससे शिक्षामित्रों को ग्रांट होने के बावजूद भी समय से मानदेय नहीं मिल पा रहा है,जिससे शिक्षा मित्रों में भारी आक्रोश व्याप्त है।

जिलाध्यक्ष ब्रजेश वशिष्ठ ने बीएसए से उक्त दोनों प्रकरणों को गंभीरता से लेते हुए शिक्षामित्र हित में अपने अधीनस्थों को प्रभावी दिशा-निर्देश जारी करने की माँग की है, जिससे शिक्षामित्रों का उत्पीडन व शोषण न हो सके और उन्हें बेवजह इलाहाबाद के चक्कर न काटने पड़े।

Share it
Top