Home > Archived > अब भिण्ड-इटावा मार्ग पर 27 से दौड़ेगी पैसेंजर

अब भिण्ड-इटावा मार्ग पर 27 से दौड़ेगी पैसेंजर

रेल राज्यमंत्री दिखाएंगे हरीझण्डी


ग्वालियर। लम्बे इंतजार के बाद आखिर अंचल वासियों का ट्रेन में सवार होकर इटावा पहुंचने का सपना सच होने जा रहा है। 27 फरवरी को पैंसेजर ट्रेन इटावा के लिए चलेगी। इस ट्रेन को हरीझण्डी रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा दिखाएंगे। इस अवसर पर केन्द्रीय खनिज एवं इस्पात मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी उपस्थित रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि पिछले 31 वर्षों से गुना-भिण्ड-इटावा रेलमार्ग परियोजना की शुरूआत हुई थी। गुना से लेकर भिण्ड के बीच वर्ष 2003 में रेलगाड़ी का संचालन शुरू हो चुका था। उसके बाद 35 किलोमीटर का मार्ग तैयार होने और यात्री गाड़ी चलने में पूरे 13 वर्षों का समय लग गया। इस बीच रेलवे को कई बार न्यायालय की शरण में जाना पड़ा तो मध्यप्रदेश व उत्तरप्रदेश सरकार के आगे-पीछे घूमना पड़ा। लम्बे समय से भिण्ड सांसद भागीरथ प्रसाद ने ट्रेन को भिण्ड से इटावा पहुंचाने के लिए केन्द्रीय मंत्री तो कभी विभाग के अधिकारियों के संग बैठक की।
आखिरकार उनके प्रयास रंग लाए और रेल राज्यमंत्री ने 27 फरवरी का समय ट्रेन को हरीझण्डी दिखाने के लिए दे दिया। हांलाकि रेलवे अधिकारियों ने इसकी अधिकारिक पुष्टि अभी नहीं की है।


शताब्दी से पहुंचेगें स्टेशन:-
रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा शताब्दी एक्सप्रेस से रेलवे स्टेशन पर सुबह साढ़े नौ बजे उतरेंगे। इसके बाद स्पेशल ट्रेन से भिण्ड के लिए रवाना होगें और ठीक 11 बजे भिंड-कोटा पैसेंजर को इटावा के लिए हरीझण्डी दिखाएंगे। इलाहाबाद से पहले ही भिण्ड-कोटा का नया रैक मंगवा लिया गया है।

इन्होंने कहा
रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा जी ने 27 फरवरी का समय ट्रेन को हरीझण्डी दिखाने के लिए दिया है। उस दिन मुख्यमंत्री शहर में ही हैं तो वह और केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह जी भी इस कार्यक्रम में शामिल होगें।
भागीरथ प्रसाद, भिण्ड सांसद

Share it
Top