Home > Archived > अनियंत्रित स्कार्पियो घर में घुसी, पिता-पुत्री की मौत

अनियंत्रित स्कार्पियो घर में घुसी, पिता-पुत्री की मौत

शहपुरा। तेज रफ्तार स्कार्पियो अचानक घर में घुसने से जहां एक 5 वर्षीय मासूम बालिका की घटना स्थल पर मौत हो गई। वहीं उसके पिता ने उपचार दौरान शहपुरा अस्पताल में दम तोड़ दिया। गुस्साए ग्रामीणों ने शहपुरा-उमरिया मार्ग में लगभग दो घंटे जाम लगा दिया। महिलाओं सहित ग्रामीण सड़क पर बैठकर विरोध प्रदर्शन करने लगे।


घंटों समझाइश के बाद ही आवागमन बहाल हो सका। मामला शहपुरा थानांतर्गत ग्राम धिरवन कला का है। रविवार को बेलगाम स्कार्पियो क्रमांक एमपी 18 सी 6004 अनियंत्रित होकर रामभजन कुुलस्ते के घर में जा घुसी। घर के आंगन में खेल रही प्रियंका कुलस्ते की जहां चपेट में आने से मौत हो गई, वहीं दूसरा गोलू भी गंभीर तौर पर घायल हो गया। बताया गया कि चार पहिया वाहन शहपुरा से शहडोल जा रहा था।

बच्चों को बचाने के चक्कर में पिता की मौत
बताया गया कि मौके पर अनियंत्रित चार पहिया वाहन को घर में घुसता देख बच्चों को बचाने की कोशिश में रामभजन भी इसकी चपेट में आ गया। गंभीर अवस्था में रामभजन को शहपुरा स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया। कुछ ही देर में

रामभजन की भी मौत हो गई।
आक्रोशित ग्रामीणों ने बच्ची व पिता की मौत के बाद शहपुरा-उमरिया मार्ग अवरूद्व कर दिया गया, जिससे यातायात पूरी तरह ठप्प हो गया। आने जाने वाले लोगों व विदेशी सैलानियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। दुर्घटना में चार पहिया चालक ब्रिजेश पनिका का इलाज भी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शहपुरा में चल रहा है।

ग्रामीणों ने किया मार्ग जाम
घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीण व परिजनों ने एकजुट होकर मार्ग में खड़े हो गए और पत्थर सड़क में रखकर मार्ग बंद कर दिया। ग्रामीण तुरंत मार्ग में बैरीकेटस लगाने, ब्रेकर बनवाने सहित वाहनों की तेज रफ्तार पर रोक लगाने की मांग पर आ गए। जाम के कारण मार्ग के दोनों ओर सैकड़ों वाहनों का जमावड़ा लग गया, जिससे उमरिया की ओर से अमरकंटक के साथ जबलपुर की ओर आने जाने वाले वाहनों की कतार लग गई। इस जाम में विदेशी सैलानियों को ले जा रहे दर्जनों वाहन भी जाम में फंसे रहे। मौके पर प्रशासनिक अधिकारियों ने पहुंच कर तत्काल बैरीकेटस मंगवाकर रखवाने के साथ समझाइश दी, उसके बाद ही यातायात बहाल हो सका।

Share it
Top