Home > Archived > क्रिकेट में वैध होनी चाहिए सट्टेबाजीः मुकुल मुद्गल

क्रिकेट में वैध होनी चाहिए सट्टेबाजीः मुकुल मुद्गल

क्रिकेट में वैध होनी चाहिए सट्टेबाजीः मुकुल मुद्गल

नई दिल्ली। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) स्पॉट फिक्सिंग और सट्टेबाजी जांच की अगुवाई करने वाले न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) मुकुल मुद्गल का मानना है कि देश में क्रिकेट में सट्टेबाजी को वैध कर देना चाहिए ​जिससे भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने में सहायता मिलेगी।
न्यायमूर्ति मुकुल मुद्गल ने बताया कि देश में क्रिकेट में सट्टेबाजी को वैध करनी चाहिए क्योंकि इससे क्रिकेट में फैल रहे भ्रष्टाचार को रोकने में मदद मिलेगी।
दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश बाद मुकुल मुद्गल की निगरानी में भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच टेस्ट मैच फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में आयोजित हुआ था। मुद्गल के कामकाज से खुश होने के बाद अब दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने आगामी विश्व कप टी-20 के दिल्ली में होने वाले मुकाबले भी उनकी देखरेख में कराने के लिए फैसला लिया है।
न्यायमूर्ति मुकुल मुद्गल ने बताया कि अगर सरकार सट्टेबाजी को वैध करार दे देता है तो इससे स्पॉट फिक्सिंग और अन्य गैर कानूनी कार्य कम करने में मदद मिलेगी। इसके जरिए सरकार के पास कर के रूप में पैसा कमाने का अच्छा मौका भी रहेगा। आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग के कारण ही राजस्थान रॉयल्स और चेन्नई सुपर किंग्स को दो वर्ष के लिए निलंबित होना पड़ा था।

Share it
Top