Home > Archived > कलेक्टर ने किया ग्रामों का भ्रमण

कलेक्टर ने किया ग्रामों का भ्रमण

योजनाओं के क्रियान्वयन का लिया जायजा

अशोकनगर। कलेक्टर अरुण कुमार तोमर द्वारा गुरुवार को जिले की तहसील शाढ़ौरा के ग्राम झीला एवं सहरिया आदिवासी ग्राम रूसल्ली चक्क का आकस्मिक भ्रमण किया गया। भ्रमण के दौरान एसडीएम इच्छित गढ़पाले, तहसीलदार सतीष वर्मा, एसडीओ ग्रामीण यांत्रिकी सेवा आरएल शर्मा साथ थे। कलेक्टर श्री तोमर द्वारा ग्राम झीला में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कक्षा 9वी, 10वी एवं 12वी में अध्यनरत छात्र- छात्राओं से विषयवार पढाई की जानकारी ली। उन्होंने स्कूल के प्राचार्य शिवराज पाल से स्कूल प्रबंधन, व्यवस्थाओं एवं बच्चों की उपस्थिति के संबंध में जानकारी ली।
कलेक्टर श्री तोमर द्वारा ग्राम झीला में चौपाल लगाकर ग्रामीणों से शासकीय योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के बारे में विस्तार से चर्चा की। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम की कुल आबादी 1500 है। ग्राम में 9 हैण्डपम्प स्थापित है, जिनमें से चार सुचारू रूप से संचालित है एवं शेष बिगड़े हुए है। इस पर कलेक्टर ने तुरंत एसडीओ पीएचई को निर्देशित किया वे मैकेनिक दल के साथ ग्राम में पहुंचकर बिगड़े हुए हैण्डपम्पों का सुधार कार्य शीघ्र कराना सुनिश्चित करें। साथ ही हरिजन बस्ती में स्थापित हैण्डपम्प जिसमें गंदा पानी निकल रहा है उसका निरीक्षण कर आवश्यक वैकपिक व्यवस्था कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री तोमर द्वारा ग्राम की पटवारी सुश्री गोरांगी रघुवंशी से वास स्थान सर्वे तथा दखल रहित भूमि के भौतिक सत्यापन के संबंध में जानकारी दी। उन्होंने ग्रामीणों से पेंशन वितरण, खाद्यान वितरण, शिक्षा व्यवस्था एवं टीकाकरण के बारे में जानकारी प्राप्त की।
इसी प्रकार उन्होंने शासकीय नवीन प्राथमिक विद्यालय रूसल्ली चक्क पहुंचकर सहरिया आदिवासियों से रूबरू होकर उनकी समस्याएं सुनी। ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पहुंच मार्ग की हालत काफी दयनीय है। जिससे आने जाने में काफी परेशानी का सामना करना पडता है। कलेक्टर ने ग्रामीणों की मांग पर मनरेगा योजनान्तर्गत सुदूर खेत सड़क के तहत सड़क निर्माण कार्य कराये जाने हेतु एसडीओं आरईएस को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ग्राम में विद्युत व्यवस्था सुचारू रूप से ठीक कराई जायेगी। उन्होंने शौचालय निर्माण हेतु कराये गए सर्वे के संबंध में जानकारी प्राप्त की। उन्होने निर्देश दिए कि इस ग्राम को आबादी ग्राम घोषित कराने हेतु शीघ्र प्रस्ताव भेजें। जिससे इस ग्राम का समग्र विकास कराया जा सके तथा सहरिया आदिवासी विकास की मुख्य धारा से जुड सकें। साथ ही हितग्राही मूलक योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को प्राप्त हो सके। पटवारी, सचिव, रोजगार सहायक एवं लक्ष्मी स्व सहायता समूह को नोटिस जारी किया गया है।

Share it
Top