Home > Archived > हितग्राही सम्मेलन को लेकर तैयारियों में जुटा प्रशासन

हितग्राही सम्मेलन को लेकर तैयारियों में जुटा प्रशासन

भोपाल। आगामी 4 दिसंबर को राजधानी के जंबूरी मैदान पर होने वाले हितग्राही सम्मेलन (गरीब कल्याण एजेंडा) की तैयारियों में प्रदेश के मंत्रालय से लेकर मैदान तक के अधिकारी-कर्मचारी व्यस्त है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह सरकार के 11 वर्ष पूरे होने पर यह हितग्राही सम्मेलन होगा। इस सम्मेलन की तैयारियों के लिए सरकार के कृषि , नगरीय प्रशासन और ग्रामीण विकास तथा पंचायत विभाग को जिम्मेदारी सौंपी गयी है। सरकार के इस महत्वपूर्ण आयोजन में लगभग साढ़े चार लाख हितग्राहियों के राजधानी में जुटने की तैयारी की गयी है।

सूत्रों के मुताबिक आयोजन में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और अन्य नेता भी शामिल होंगे। इस कार्यक्रम में अवागमन के लिए दस हजार से अधिक बसें अधिग्रहित की गयी है। प्रत्येक बस में एक अधिकारी रहेगा, बस के ऊपर स्वच्छ भारत से संबंधित स्लोगन का बैनर होगा और बसों में सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार की कैसेट भी चलेगी। इसके लिए प्रत्येक जिले में एक नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। राजधानी में आगुंतकों के लिए एक कंट्रोल रूम की स्थापना भी की गयी है। प्रत्येक बस में 40 हितग्राही होंगे। बस का फिटनेस सर्टिफिकेट चेक करने के बाद ही बस को अधिग्रहित किया जायेगा। बस में सवार अधिकारी तय करेगा कि हितग्राहियों को भोजन कराना है, वहीं मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना की तरह हितग्राहियों को आनंदित करते हुए आयोजन स्थल तक लाया जायेगा। उनको दिये जाने वाला देय दूरी के आधार पर निर्धारित होगा, जो कि कलेक्टर द्वारा तय किया जायेगा। दूरस्थ जिलों के हितग्राहियों को तीन दिन तक का देय विभाग देगा। यह देयक 300 रू. के हिसाब से होगा।

सरकार के जिला कलेक्टरों और जिला पंचायत के सीईओ के पास हितग्राहियों को इक_ा करने और भोपाल लाने की बड़ी जिम्मेदारी है। इसके साथ-साथ स्थानीय स्तर पर भाजपा के नेता, विधायक भी हितग्राहियों को सम्मेलन में शामिल होने के लिए प्रेरित करने के काम में जुटे है। आयोजकों के लक्ष्य में ऐसे हितग्राही है, जिन्हें सरकारी योजनाओं से हितलाभ मिला है।

Share it
Top