Home > Archived > अपनी गलतियां दूसरे के मत्थे मढऩा गलत : समरजीत सिंह

अपनी गलतियां दूसरे के मत्थे मढऩा गलत : समरजीत सिंह

अपनी गलतियां दूसरे के मत्थे मढऩा गलत : समरजीत सिंह

लिटिल एंजिल्स हाई स्कूल में विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित, छात्रों ने मंच पर दी एक से बढक़र एक प्रस्तुति

ग्वालियर। किसी व्यक्ति के लिए उसके पंखों में उड़ान की ताकत होना चाहिए जो ऊंची से ऊंची चोटी तक ले जा सके। अपनी गलतियों को दूसरे के मत्थे नहीं मढऩा चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति को शत प्रतिशत अपनी जिम्मेदारियों को निभाना चाहिए। जब शत प्रतिशत जिम्मेदारी समझेंगें तब सफलता के द्वार स्वत: ही खुलेंगें। यह बात सोमवार को लिटिल एंजिल्स हाई स्कूल में चल रही एनसीएसक्यूसीसी कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करते हुए मोटिवेशनल गुरू समरजीत सिंह ने कही। इस अवसर पर स्कूल के संचालक सुनील ओल्याई, टीना ओल्याई, प्राचार्य डॉ.शबाना रेहान एवं समस्त स्टॉफ उपस्थित था। तत्पश्चात विद्यालय में विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।

विभिन्न स्थलों के खिंचवाए फोटो
इस अवसर विद्यालय परिसर के विभिन्न स्थलों के फोटो विद्यार्थियों द्वारा खींचे गए। जिसका निर्णय बुधवार को निर्णायकों द्वारा किया जाएगा। वही केस स्टडी का प्रस्तुतीकरण किया गया जिसमें 22 टीमों ने भाग लिया। प्रत्येक टीम ने अपने स्तर पर समस्या का समाधन ढूंढा जिसके लिए प्रत्येक टीम को 15 मिनट का समय दिया गया।

पोस्टर और स्लोगन प्रतियोगिता
एनसीएसक्यूसीसी कार्यक्रम के अंतर्गत कक्षा 7 एवं 8 के विद्याार्थियों ने भाग लिया। जिसमें क्वालिटी इन्फोरमेशन बेटर नॉलेज एवं क्वालिटी इज हेव इन्स्टीटयूट केच देन यंग विषय पर चित्र आदि बनाए। वहीं क्वालिटी क्वीज प्रतियोगिता में 17 टीमों के 34 विद्यार्थियों ने भाग लिया। जिसमें सामान्य ज्ञान पर लिखित परीक्षा हुई एवं आर्ट एवं लिटरेचर, कम्प्यूटर, सौरमण्डल आदि विषयों पर प्रश्न पूछे गए।

मंच पर दी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति
एनसीएसक्यूसीसी कार्यक्रम के अंतर्गत सोमवार की शाम को छात्रों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी गई। जिसमें 9 टीमों ने भाग लिया। छात्रों ने चिरमी डांस, आतंकवाद, देशभक्ति, वजूद एक एहसास, नारी सशक्तिकरण, शिववंदना की प्रस्तुति देकर खूब तालियां बटोरीं।

Share it
Top