Top
Latest News
Home > Archived > डांडा खिडक़ में वन अमले पर हमला, फर्सी पत्थर से भरे टै्रक्टर ट्रॉली छुड़ा ले गए माफिया

डांडा खिडक़ में वन अमले पर हमला, फर्सी पत्थर से भरे टै्रक्टर ट्रॉली छुड़ा ले गए माफिया

ग्वालियर | जंगलों में सक्रिय पत्थर माफिया वन विभाग पर भारी पड़ रहे हैं। गुरुवार को माफिया के खिलाफ कार्रवाई करने डांडा खिडक़ पहुंचे वन अमले पर लाठियों और पत्थरों से हमला कर माफिया फर्सी पत्थर से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली छुड़ाकर भाग गए। इस दौरान मौके पर पहुंचा भारी पुलिस बल भी वन अमले की कोई मदद नहीं कर पाया। इस हमले में रेंजर श्रीलाल शर्मा सहित कुछ वनकर्मियों को मामली चोटें भी पहुंची हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार की रात वन मंडल अधिकारी विक्रम सिंह परिहार को सूचना मिली थी कि जंगल से अवैध उत्खनित फर्सी पत्थर उत्तर घाटीगांव रेंज के अंतर्गत डांडा खिडक़ के पास एक स्वीकृत खदान पर एकत्रित किया जा रहा है। इस पर वन कर्मियों को मौके पर भेजा गया, लेकिन जब तक वन कर्मियों का दल मौके पर पहुंचा, तब तक माफिया ने फर्सी पत्थर वहां से हटा दिया। इसके बाद गुरुवार को दोपहर में डांडा खिडक़ के पास एक खेत में फर्सी पत्थर से भरी दो टै्रक्टर ट्रॉली खड़ी होने की सूचना मिली।

इस पर उप वन मंडल अधिकारी आर.सी. शर्मा के नेतृत्व में रेंजर दीपक शर्मा घाटीगांव दक्षिण, रेंजर सत्यनारायण शर्मा घाटीगांव उत्तर, रेंजर वीरेन्द्र सिंह गेमरेंज घाटीगांव एवं रेंजर श्रीलाल शर्मा गेमरेंज तिघरा सहित उक्त रेंजों के करीब 35 वन कर्मियों को मौके पर भेजा गया। इस दल ने मौके पर पहुंचकर फर्सी पत्थर से भरी दो टै्रक्टर ट्रॉलियों को अपने कब्जे में ले लिया। इसी दौरान डांडा खिडक़ से बड़ी संख्या में आए ग्रामीणजनों ने लाठी-डंडों और पत्थरों से वन अमले पर हमला कर दिया।

बताया गया है कि ग्रामीणों को नियंत्रित करने के लिए वन कर्मियों ने अपनी बारह बोर की बंदूकों से करीब एक दर्जन हवाई फायर भी किए, लेकिन इसका ग्रामीणों पर कोई असर नहीं हुआ। विवाद बढ़ता देख भंमरपुरा पुलिस को सूचना दी गई, लेकिन लम्बे इंतजार के बाद भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची। इसके बाद वन मंडल अधिकारी श्री परिहार ने दूरभाष पर पुलिस अधीक्षक से बात की, तब भंमरपुरा, मोहना, घाटीगांव, पनिहार थानों से थाना प्रभारियों सहित भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा, लेकिन तब तक माफिया दो टै्रक्टर और एक ट्रॉली छुड़ाकर मौके से फरार हो चुके थे, जबकि एक ट्रॉली वे पास में ही एक नाले में पटक कर छोड़ गए, जिसे जब्ती में ले लिया गया है।

दो लोगों की हुई पहचान
हमलावरों में से दो लोगों की पहचान कर ली गई है, जिनके नाम वनिया एवं सुल्तान सिंह पुत्रगण पंचम सिंह निवासी डांडा खिडक़ बताए गए हैं। इसके अलावा वनकर्मियों द्वारा कुछ लोगों के मोबाइल में फोटो खींच लिए गए हैं, जिनकी पहचान की जा रही है। इस घटना की रिपोर्ट भी भंमरपुरा थाने में दर्ज करा दी गई है।

जेसीबी से खींचकर लाए ट्रॉली
वनकर्मियों द्वारा मौके से जब्त की गई फर्सी पत्थर से भरी एक ट्रॉली जेसीबी मसीन से खींचकर लाई गई, जो उत्तर घाटीगांव रेंज कार्यालय परिसर में रखवा दी गई है, जिसकी सुरक्षा के लिए बंदूकधारी वनकर्मी तैनात किए गए हैं।

वाहनों में की तोड़-फोड़
विभागीय अधिकारियों के अनुसार माफिया के लोगों द्वारा वनकर्मियों पर पथराव करने के साथ मौके पर रखे वन विभाग के सात वाहनों में तोड़-फोड़ भी की गई। सभी सात वाहनों के कांच तोड़ दिए गए हैं, जिससे वन विभाग को करीब एक लाख का नुकसान होना बताया जा रहा है।

Next Story
Share it
Top