Home > Archived > थाना प्रभारी के खिलाफ जनता में आक्रोश

थाना प्रभारी के खिलाफ जनता में आक्रोश

केन्द्रीय मंत्री से करेंगे शिकायत


गोहद। सिंघल एम्पोरियम पर गोलियां चलाकर दहशत फैलाने वाले चार आरोपियों को गिरफ्तार कर जुलूस निकालने से जनता आक्रोशित हो गई है। जनता की मांग है कि चौराहा थाना प्रभारी रामबाबू यादव को तत्काल हटाया जाए तथा रासुका के तहत की गई कार्रवाई को वापस लिया जाए।
गोहद चौराहा थाना क्षेत्र की जनता थाना प्रभारी की कार्रवाई से आक्रोशित है। कारण है कि रंगदारी करने वाले, मुन्नेश सिंह, नीरज सिंह, सोनू सिंह, राहुल सिंह के खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई कर टीआई ने बाजार में जुलूस निकाला था। पकड़े गए आरोपियों में एक नाबालिग है तथा दो पर इससे पूर्व कोई अपराध नहीं है। इसको लेकर करीब दो सैकड़ा लोग एकत्रित होकर एसडीएम के यहां पहुंचे और ज्ञापन सौंपा। इसके बाद जन समूह ने सामान्य प्रशासन मंत्री लालसिंह आर्य के डीडी नगर स्थित निवास पर पहुंचकर फरियाद की तथा गुरुवार को राजमार्ग पर चक्काजाम की चेतावनी भी दी। जिसको देखते हुए जिले से अतिरिक्त पुलिस बल बुलाकर तैनात किया गया। गुरुवार को एक ओर जहां प्रशासन हर स्थिति पर नजर रखे हुए था।
वहीं दूसरी ओर पंचायत आयोजित की गई, जिसमें निर्णय हुआ कि दूसरी ओर इस्पात मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के ग्वालियर आगमन पर उनसे फरियाद करने का निर्णय लिया गया।

इनका कहना है
रंगदारी करने वाले आरोपियों को पकड़कर ग्वालियर ले जाने के लिए चौराहा स्टेण्ड तक ले जाया गया था न कि उनका जुलूस निकाला गया था।

रामबाबू यादव, थाना प्रभारी
गोलियां चलाकर दहशत फैलाने पर आरोपियों के खिलाफ कार्रवई की गई है।

प्रवीण अष्ठाना, एसडीओपी
टीआई रामबाबू यादव ने मुझसे आठ लाख रुपए की मांग की गई थी। न देने पर मेरे लड़कों को प्रकरण में फंसा दिया।

जगदीश सिंह, स्थानीय निवासी

Share it
Top