Home > Archived > तीन किश्तों में चुकाना होंगे 15 करोड़, नहीं लगेगा ब्याज

तीन किश्तों में चुकाना होंगे 15 करोड़, नहीं लगेगा ब्याज

किसानों पर भूमि विकास बैंक की रकम बकाया
श्योपुर | जिला सहकारी ग्रामीण भूमि विकास बैंक से लिए गए कर्ज को अब किसानों द्वारा तीन किश्तों में भुगतान करना होगा। इस कर्ज पर ब्याज भी नहीं लगेगा। जिले के किसानों पर भूमि विकास बैंक की 15 करोड़ रुपये राशि शेष है। जिसकी पहली किश्त सितम्बर माह से जमा की जाएगी। इसके लिए बैंक द्वारा किसानों की सूची तैयार कर कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है।
उल्लेखनीय है कि प्रदेश सरकार द्वारा भूमि विकास बैंक को घाटे में होने के चलते बंद करने के लिए गए फैसले से पहले किसानों को दिए गए कर्ज की वसूली के आदेश दिए हैं। किसान बगैर किसी परेशानी के कर्ज की रकम अदा कर सके, इसके लिए वह तीन किश्तों में भुगतान कर सकता है, वह भी बगैर ब्याज के। बैंक से ली गई मूल रकम के भुगतान के बाद किसान अपनी बंधक जमीन को छुड़ा सकता है। इसके लिए भण्डार क्रय नियम में बदलाव की मंजूरी भी दी गई है।
दो हजार किसानों पर 15 करोड़ बकाया
भूमि विकास बैंक की श्योपुर सहित दांतरदा, बड़ौदा व विजयपुर में चार शाखाएं है। जिनसे करीब दो हजार किसानों ने जमीन दस्तावेजों के आधार पर कर्ज लिया है। श्योपुर शाखा की बात करें, तो चार सैकड़ा के लगभग किसानों पर 4 करोड़ 71 लाख रुपए का कर्ज बकाया है। जिसमें ब्याज की राशि भी सम्मलित है। वहीं जिले की तीनों शाखाओं का कुल निकाला जाए, तो किसानों पर कर्ज की रकम 15 करोड़ रुपए सामने आई है।
कर्मचारियों का होगा संविलियन!
जानकारी के मुताबिक भूमि विकास बैंक के कर्मचारियों का संविलियन बंद होने की स्थिति में अन्य सहकारी संस्थाओं में हो सकता है। श्योपुर जिले में संचालित बैंक की सभी शाखाओं में 25 कर्मचारी कार्यरत है तथा बैंक का मुख्यालय मुरैना में लगता है।
इनका कहना है
प्रदेश सरकार द्वारा इस तरह का फैसला लिया गया है। लेकिन उससे पहले किसानों को दिए गए कर्ज की रकम तीन किश्तों में बगैर ब्याज के वसूलने का आदेश है। जिसे वसूलने के लिए बैंक प्रबंधन द्वारा तैयारी की जा रही है।
गिर्राज किशोर शर्मा, शाखा प्रबंधक, श्योपुर

Share it
Top