Home > Archived > ललिता, गौड़ा ने एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में जीते स्वर्ण

ललिता, गौड़ा ने एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में जीते स्वर्ण


वुहान | ललिता बाबर ने 3000 मीटर स्टेपलचेज में नये राष्ट्रीय रिकार्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता जबकि चक्का फेंक के दिग्गज खिलाड़ी विकास गौड़ा भी सोने का तमगा अपने नाम करने में सफल रहे जिससे भारत ने आज यहां 21वीं एशियाई एथलेटिक्स चैम्पियनशिप के तीसरे दिन तीन स्वर्ण पदक जीते।
ललिता ने 3000 मीटर स्टेपलचेज में अपने ही राष्ट्रीय रिकार्ड में सुधार करते हुए नौ मिनट 34.13 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक जीता। बहरीन की रूथ चेबेट के इस स्पर्धा से हटने के बाद ललिता को स्वर्ण पदक का प्रबल दावेदार माना जा रहा था।
इंचियोन एशियाई खेलों में ललिता को पछाड़कर रजत पदक जीतने वाली चीन की ली झेनझू (नौ मिनट 41.43 सेकेंड) दूसरे स्थान पर रही जबकि मेजबान देश की झांग शियान ने नौ मिनट 46.82 सेकेंड के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।
26 साल की ललिता ने इसके साथ ही 2016 रियो ओलंपिक के लिए भी क्वालीफाई कर लिया। उन्होंने नौ मिनट 45 सेकेंड के क्वालीफाइंग स्तर से कहीं बेहतर प्रदर्शन किया। इससे पहले उनका राष्ट्रीय रिकार्ड नौ मिनट 35.37 सेकेंड था जो उन्होंने ग्लास्गो में 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के दौरान बनाया था।

Share it
Top