Home > Archived > लंबित प्रकरणों का निराकरण तत्परता से करें: कलेक्टर

लंबित प्रकरणों का निराकरण तत्परता से करें: कलेक्टर

अशोकनगर । विभागों में लंबित पत्रों का निराकरण अधिकारियों द्वारा तत्परता के साथ किया जाए। साथ ही वरिष्ठ कार्यालय से एवं उच्च स्तर से प्राप्त होने वाले पत्रों का निराकरण भी प्राथामिकता के आधार पर किया जाए । उक्ताशय के निर्देश कलेक्टर आरबी प्रजापति द्वारा सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा के लंबित पत्रों की समीक्षा बैठक के दौरान आधिकारियों को दिए गए। बैठक में अपर कलेक्टर एसके सेवले, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एमएल वर्मा, एसडीएम सुरभि सिन्हा, नेहा शिवहरे, एमएल सिसोदिया, एआर मेसराम तथा जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर श्री प्रजापति ने निर्देश दिए कि आगामी बैठक में जिला आधिकारी अपने-अपने विभाग की पूरी जानकारी एवं विभाग द्वारा संचालित शासकीय योजनाओं की प्रगति के साथ आएं। स्कूल चलें हम अभियान की समीक्षा करते हुये शिक्षा से संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शत प्रतिशत बच्चों का दाखिला हो यह सुनिश्चित किया जाए। साथ ही नि:शुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण कराया जाए। गणवेश की राशि बच्चों के खातों में पहुंचाये जाने की व्यवस्था कराई जाए। उन्होंने कृषि विभाग के अधिकारी को निर्देशित किया कि वे जिले में फर्टिलाईजर्स की सघन जांच हेतु दलों का गठन किया जाए । उन्होंने लोक स्वास्थ्य यंात्रिकीय विभाग के अनुविभागीय अधिकारी को निर्देशित किया कि वे बारिश के मौसम के मद्देनजर जलस्त्रोतों में ब्लीचिगं पाउडर डलवायें। उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि वह बाढ से संबंधित अपने-अपने विभाग की कार्ययोजना तैयार कर लें। उन्होंने जिला अग्रणी बैक मैनेजर को निर्देश दिये कि वह प्रधानमंत्री जीवन ज्योति एवं जीवन सुरक्षा योजना के तहत पात्र हितग्रहियो का बीमा कराये जाने हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेें तथा इस कार्य में प्रगति लाएं। उन्होने निर्देश दिये कि सुशासन शिविर में प्राप्त आवेदनो को विभागवार कम्प्यूटर में दर्ज कर उनका निराकरण आवश्यक रूप से कराना सुनिश्चित करें। सभी एसडीएम अनुभाग स्तर पर बैठकें आयोजित कर आवेदनों का निराकरण कराये। उन्होने स्वीकृत कृषि मंडी हेतु सभी आवश्यक कार्यवाही किये जाने के निर्देश उप संचालक मंडी को दिये। उन्होंने नवीन पिपरई तहसील के संचालन हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं कराये जाने के निर्देश एसएलआर को दिये। उन्होंने राज्य बीमारी सहायता के प्रकरणों के संबंधों में शासन से प्राप्त नवीन दिशा निर्देशों के तहत कार्यवाही किये जाने के निर्देश मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं एसडीएम को दिये । उन्होंने समस्त अनुविभागीय राजस्व अधिकारियो को निर्देशित किया कि वह अपने-अपने अनुभाग अन्तर्गत संचालित छात्रावासो एवं आश्रमों का सतत् निरीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें।

Share it
Top