Home > Archived > कर्ज से दबे व्यापारी ने की आत्महत्या

कर्ज से दबे व्यापारी ने की आत्महत्या

व्यापार के लिये अनाप-शनाप ब्याज पर बाहुबलियों से ली थी रकम

मुरैना/जौरा। नगर में डाकखाना रोड पर रहने वाले 55 वर्षीय व्यापारी पूरनचन्द गुप्ता पुत्र सांवलियाराम गुप्ता ने बुधवार की रात जहरीला पदार्थ खाकर मौत को गले लगा लिया। बताया जा रहा है कि व्यापारी ने बाहुवलियों से अनाप-शनाप ब्याज पर अपने धंधे में रकम लगा रखी थी। कर्ज देने वाले व्यापारी पर मय ब्याज के रकम बापिस करने का दबाव बना रहे थे जिसके चलते उसने मौत को गले लगा लिया।
जानकारी के अनुसार पूरनचन्द गुप्ता की तहसील चौराहे पर कपड़ों की दुकान है जिसमें वह अपना व्यापार करता था। कस्बे के कुछ दबंगों से व्यापारी ने 5 व 10 रुपए सैकड़ा के ब्याज पर रकम ले रखी थी जिसे वह नहीं लौटा पा रहा था तथा दबंगों का मय ब्याज के रकम वापस करने का कुछ दिनों से भारी दबाव था, इसी दबाव के चलते उसने रात में अपने घर पर जहरीला पदार्थ खा लिया और उसकी मौत हो गयी। इस घटना से जौरा का व्यापारी समुदाय सकते में आ गया है।
मकान की रजिस्ट्री करने बनाया जा रहा था दबाव
सूत्रों की मानें तो कस्बे के कुछ दबंग जिन्होने व्यापारी को भारी ब्याज पर रकम दी थी, वह रकम की वापसी के लिए एक पखवाड़े से मकान की रजिस्ट्री करने का दबाव डाल रहे थे जिससे व्यवसायी पूरनचन्द तनाव में था। यह बात उसके नजदीक व आसपास के रहने वाले लोग दबी जुवान से बोल रहे हैं लेकिन दबंगों के भय से पुलिस के सामने हकीकत बताने की हिम्मत नही जुटा पा रहे हैं।

'व्यापारी की मौत का मामला प्रथम दृष्टया आत्महत्या का प्रतीत होता है, मृतक के पास से कोई सुसायट नोट नहीं मिला है और न ही प्राथमिक जांच में अभी कोई विशेष जानकारी सामने आई है, पुलिस द्वारा मामले की विवेचना की जा रही है।
केडी सोनकिया, एसडीओपी जौरा

Share it
Top