Home > Archived > लंबित काम निपटाने के लिए ओवरटाइम करेगी राज्यसभा

लंबित काम निपटाने के लिए ओवरटाइम करेगी राज्यसभा

लंबित काम निपटाने के लिए ओवरटाइम करेगी राज्यसभा

नई दिल्ली | लंबित कामकाज निपटाने के लिए राज्यसभा अगले सप्ताह से अपने तय समय से ज्यादा देर तक कामकाज करेगी। राज्यसभा में जो कामकाज निपटाने के लिए लंबित हैं उनमें आम व रेल बजट और खान एवं कोयला विधेयक शामिल हैं। एक अधिकृत विज्ञप्ति में कहा गया है, "संसद के वर्तमान बजट सत्र के चार सप्ताह का समय सोमवार से शुरू होता है।
इस दौरान राज्यसभा में तय समय शाम 7 बजे के बाद भी कामकाज होगा ताकि सरकार के विधायी एवं अन्य कामकाज को निपटाया जा सके।" इस संबंध में फैसला गुरुवार को सदन की कार्य मंत्रणा समिति की बैठक में लिया गया। ऊपरी सदन में 2015-16 के लिए खाता (रेलवे) पर अनुदान के लिए मांग और 2014-15 के अनुदान के लिए अनुपूरक मांग से संबंधित विनियोग विधेयक को विचार के लिए उठाना और वापस भेजना अभी तक लंबित है।
रेल बजट पर चर्चा करीब-करीब पूरी हो चुकी है और राज्यसभा 2015-16 के आम बजट और लोकसभा द्वारा अगले सप्ताह पारित होने के बाद विनियोग विधेयक पर भी चर्चा करेगी। अगले सप्ताह होने वाले अन्य महत्वपूर्ण कामकाज में राज्यसभा खान एवं खनिज (विकास एवं नियमन) संशोधन विधेयक 2015 और कोयला खान (विशेष प्रावधान) विधेयक 2015 पर विचार करेगी और पारित करेगी। इन्हें लोकसभा में पारित किया जा चुका है।
इनसे संबंधित अध्यादेशों को विस्थापित करने वाले विधेयकों पर दो स्थायी समितियों को 18 मार्च 2015 तक अपनी रिपोर्ट सौंपनी थी। जिन अध्यादेशों की जगह लेने के लिए विधेयक पेश किया गया है वे 5 अप्रैल को समाप्त हो जाएंगे। तय घोषणा के अनुसार संसद 20 मार्च को स्थगित हो जाएगा। विज्ञप्ति में कहा गया है तीसरा अध्यादेश विस्थापन विधेयक भूमि अधिग्रहण से संबंधित है और अभी तक राज्यसभा में पेश नहीं किया जा सका है।

Share it
Top