Home > Archived > कल से 4 रूपए सस्ता हो सकता है डीजल-पेट्रोल

कल से 4 रूपए सस्ता हो सकता है डीजल-पेट्रोल

कल से 4 रूपए सस्ता हो सकता है डीजल-पेट्रोल

नई दिल्ली। डीजल-पेट्रोल मंगलवार से 3 से 4 रूपये तक सस्ता हो सकता है। इसकी वजह अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल की कीमतों में गत सप्ताह आई 12 प्रतिशत की गिरावट तथा भारतीय बास्केट में इसके आठ फीसदी से ज्यादा गिरना बताया जा रहा है। पिछले एक पखवाडे में कच्चाा तेल 11 फीसदी तक सस्ता हो चुका है। यह 11 साल पुराने स्तर पर आ चुका है। तेल विपणन कंपनियां पेट्रोल-डीजल की कीमतों की हर पखवाडे समीक्षा करती हैं। कंपनियां यह समीक्षा मंगलवार को करेंगी। इसके बाद उपभोक्ताओं को राहत मिलने के आसार हैं। पिछले पखवाडे अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चा तेल की कीमत और डॉलर के मुकाबले रूपए की विनिमय दर के आधार पर अगले 15 दिन के लिए पेट्रोल-डीजल के मूल्य निर्धारित किए जाते हैं। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के आंकडों के अनुसार, 26 नवंबर को समाप्त पखवाडे में भारतीय बास्केट में कच्चा तेल की औसत कीमत 41.17 डॉलर प्रति बैरल रही थी जो गुरूवार को घटकर 36.65 डॉलर प्रति बैरल पर आ गई। लंदन में 30 नवंबर को ब्रेंट क्रूड 45 डॉलर प्रति बैरल था जो शुक्रवार को लगभग 38 डॉलर प्रति बैरल तक उतर गया।
हालांकि, इस दौरान डॉलर की तुलना में रूपया 0.31 प्रतिशत जरूर कमजोर हुआ है, लेकिन कच्चा तेल की गिरावट इससे कई गुणा ज्यादा है। इससे तेल विपणन कंपनियों के पास पेट्रोल तथा डीजल के दाम में कम से कम तीन से चार रूपए तक कटौती का अवसर है। फिलहाल दिल्ली में पेट्रोल 60.48 रूपए तथा डीजल 46.55 रूपए प्रति लीटर है। बता दें कि मोदी सरकार को आए 18 महीने हुए हैं और इस दौरान क्रूड ऑलय 57 फीसदी सस्ता हो चुका है।
इससे मोदी की कमाई इस दौरान पेट्रोल पर 101 फीसदी और डीजल पर 200 फीसदी बढ गई। ऎसा सिलिए हुआ, क्योंकि सरकार ने पांच बार पेट्रोल-डीजल पर डयूटी बढा दी। सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज डयूटी से 2014-15 में 74 हजार करोड रूपये की कमाई की है, जो पिछले साल से पचास फीसदी ज्यादा है। इस साल एक्साइज से कमाई का टारगेट 1.07 लाख करोड रूपये रखा गया है। अगर अब सरकार एक्साइज डयूटी नहीं बढाती है, तो इसका फायदा उपभोक्ताओं को मिलेगा।

Share it
Top