Home > Archived > तीन माह में चोर, लुटेरों ने समेटा ढाई करोड़ का माल

तीन माह में चोर, लुटेरों ने समेटा ढाई करोड़ का माल

अपराधों पर अंकुश नहीं लगा पा रही पुलिस

ग्वालियर। शहर में लगातार हो रही चारी की वारदातों को रोकने में पुलिस नाकाम साबित हो रही है। अज्ञात चोर पिछले तीन माह में करीब ढ़ाई करोड़ से अधिक का माल चोरी कर ले जा चुके हैं। लोगों की खून-पशीने की कमाई पर बदमाश मजे करते हुए खुले में घूम रहे हैं और पुलिस अंधेरे में तीर चला रही है।
देखा जाए तो पुलिस चोरी लूट, डकेती, नकबजनी एवं धोखाधड़ी के मामले रोकने में नाकाम साबित हो रही है। इन मामलों में पिछले तीन माह में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। पुलिस न तो अपराध रोक पा रही है, न अपराधियों को पकड़ पा रही है और न लम्बित अपराधों का खुलासा कर पा रही है। जहां हत्या, लूट, डकैती व अपहरण जैसे मामले बढ़े हैं वहीं अपराधियों का मनोबल भी उसी गति से बढ़ा है और पुलिस का ढीला रवैया भी कुछ इसी तरह से बढ़ाता दिख रहा है। सूत्रों के अनुसार हर थाना क्षेत्र में सट्टा, जुआ, मादक पदार्थ एवं शराब बिक्री के मामले बेधड़क चल रहे हैं।

तीन घरों से सात लाख की चोरी
विश्वविद्यालय थाना क्षेत्र के अंतर्गत पटेल नगर से भावना पत्नी सचिन सक्सेना के फ्लेट से चोर सोने व चांदी के जेवर एवं पचास हजार रुपए नगदी सहित कुल तीन लाख रुपए का माल समेट ले गए। उधर गोला का मंदिर थाना क्षेत्र के अंतर्गत सूर्य नगर कॉलोनी से रंजीत परिहार के घर से चोर सोने व चांदी के जेवर तथा बीस हजार रुपए नगदी सहित कुल दो लाख रुपए का माल समेट ले गए। वहीं प्रीतम विहार कॉलानी से रामप्रीत परिहार के घर से चोर सोने व चांदी के जेवर एवं बीस हजार रुपए नगदी सहित कुल दो लाख रुपए का माल समेट ले गए। पुलिस ने पीडि़तों की शिकायत पर मामले दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी है।

एक दर्जन हत्या के प्रकरणों का नहीं हुआ खुलासा
एक दर्जन से अधिक हत्या के प्रकरणों का पुलिस खुलासा नहीं कर सकी है। पुलिस के लिए हत्या के प्रकरण गले की हड्डी बने हुए हैं। बताया गया है कि डबरा थाना, घाटीगांव, भितरवार, माधौगंज, हजीरा, बिजौली, हस्तनापुर, पनिहार, महाराजपुरा, बहोड़ापुर आदि थानों में दर्ज हत्या के प्रकरणों में पुलिस आरोपियों का पता तक नहीं लगा सकी है।

तीन दर्जन से अधिक लूट, धोखाधड़ी व डकैती के अनसुलझे मामले
लूट, डकैती व धोखाधड़ी के तीन दर्जन से अधिक मामले विभिन्न थानों में दर्ज हैं। इन प्रकरणों को घटित करने वाले अपराधियों तक पुलिस नहीं पहुंच सकी है। खुले में घूमते अपराधी अन्य अपराधों को घटित करते हुए पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं। बताया गया है कि अभी तक विभिन्न थानों में तीस मामले लूट के दर्ज हैं, जिनमें दो डकैती महाराजपुरा एवं पनिहार में तथा दो दर्जन से अधिक मामले धोखाधड़ी के दर्ज हैं।

पिछले तीन माह में हुईं चोरी की बड़ी वारदातें

* 10 अगस्त को हजीरा में मुन्नु कुशवाह के घर से 34 लाख रुपए चोरी हो गए। उधर मुरार में अपने पिता के अंतिम संस्कार में शामिल होने गए युवक के घर से पांच लाख का सामान पार हो गया।
* 9 अगस्त को गिर्राज कॉलोनी जनकगंज से आईसक्रीम व्यापारी प्रदीप दीक्षित के घर से करीब 25 लाख रुपए की चोरी हो गई।
* 8 अगस्त को अशोक नगर थाना प्रभारी के घर चना कोठार से करीब छह लाख का सामान पार हो गया।
* 5 अगस्त को फालका बाजार मेें राजस्व निरीक्षक के घर से करीब आठ लाख की चोरी हुई।
* 1 अगस्त को फोर्टव्यू कॉलोनी बहोड़ापुर में रहने वाले सोनू खान के घर से करीब आठ लाख रुपए का सामान चोरी हुआ। इसी दिन शताब्दीपुरम में पांच लाख की चोरी हुई तो हजीरा में एक महिला को बेहोश कर दो लाख रुपए कीमत का सामान चोरी हुआ।
* इंदरगंज में महेश शर्मा के घर 14 सितम्बर को पांच लाख की चोरी हुई।
* महाराजपुरा में कृष्णा विहार कॉलानी में रहने वाली बेबी राठौर के घर से 14 सितम्बर को पंाच लाख की चोरी।
* 19 सितम्बर को खुर्जेवाला मौहल्ला में रहने वाले संजय कुशवाह के घर से तीन लाख का माल साफ।
* 27 सितम्बर को समाधिया कॉलोनी में रहने वाले राजकुमार अग्रवाल के घर से पांच लाख की चोरी तो ग्वालियर थाना क्षेत्र में रहने वाले लाखन सिंह के घर से उसी रात तीन लाख की चोरी हुई।
* 4 अक्टूबर को मुरार में रहने वाले रमेश जैन के घर से तिजोरी सहित दस लाख की चोरी हुई।
यह हैं साल के चर्चित मामले
* झंासी रोड थाना क्षेत्र में चेतकपुरी से पिछले वर्ष कार से दस लाख रुपए चोरी हो गए थे।
* पिछले वर्ष अचलेश्वर रोड पर आईडीवीआई बैंक से पैसा निकाल कर ले जा रहे एक बजुर्ग से नब्बे हजार की लूट।
* कम्पू थाना क्षेत्र में जयारोग्य अस्पताल के बाहर से पिछले वर्ष एक किसान से पच्चीस हजार रुपए की लूट।
*शिन्दे की छावनी में गुरुद्वारे के बाहर से हत्या की अफवाह उड़ाते हुए दो बदमाश एक महिला के जेवर लेकर गायब हो गए थे।
*चार माह पहले पुलिस अधीक्षक कार्यालय के नजदीक स्थित एक्सिस बैंक से नौ लाख रुपए लेकर निकल रहे मुनीम के हाथों से बैग छीनकर भागे बदमाशों का आज तक पुलिस पता नहीं कर सकी।
*दो माह पहले ललितपुर कॉलोनी स्थित मंदिर से बदमाश एक महिला की सोने की चूड़ी उतरवाकर ले गए थे।
* एक माह पहले कोतवाली थाना क्षेत्र से बदमाश एक महिला से हत्या होने की बात बताकर जेबर उतरवा ले गए थे।

Share it
Top