Home > Archived > लापरवाह सीएमओ का वेतन काटा

लापरवाह सीएमओ का वेतन काटा

डिप्टी कलेक्टर, डीईओ और डीपीओ सहित आठ अफसरों को कलेक्टर ने थमाए नोटिस

श्योपुर । कलेक्टर डीएस भदौरिया द्वारा दिए गए सख्त निर्देश के बाद भी उन्हें गंभीरता से न लेने पर नगरपालिका सीएमओ का दो दिन का वेतन काट लिया गया। सोमवार को हुई समय सीमा के प्रकरणों की समीक्षा बैठक में डिप्टी कलेक्टर, डीईओ और डीपीओ सहित आठ अफसरों को कारण बताओ नोटिस देने के निर्देश भी डीएम द्वारा दिए गए।
बैठक में कलेक्टर धनंजय सिंह ने कहा कि सभी जिला अधिकारी अनुमति के बगैर मुख्यालय नहीं छोड़ें। इसी प्रकार अनुविभाग स्तर के अधिकारी एसडीएम की अनुमति के बगैर मुख्यालय नहीं छोड़ें। यदि अनुमति के बगैर मुख्यालय छोड़ा जाता है तो संबंधित के विरूद्ध नो-वर्क-नो-पे के आधार पर कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी।
शिकायतों को गंभीरता से न लेने पर आठ को नोटिस
जनसुनवाई, मुख्यमंत्री हेल्प लाइन सहित अन्य शिकायतों को गंभीरता से नहीं लेने वाले अधिकारी कलेक्टर के निशाने पर हैं। सोमवार को हुई बैठक में सामने आया कि आठ विभागों के प्रमुखों ने शिकायतों का निराकरण करने में लापरवाही का परिचय दिया है।
यही कारण है कि कलेक्टर ने डिप्टी कलेक्टर और प्रभारी डीपीसी केके ङ्क्षसह गौर, जिला शिक्षाधिकारी हरिओम चतुर्वेदी, एकीकृत बाल विकास सेवा अधिकारी संजय भारद्वाज, सीएमएचओ डॉ. आरसी उदैनिया, एलडीएम एमके प्रजापति, आपूर्ति अधिकारी जीपी लोधी, तहसीलदार विजयपुर अखिलेश शर्मा और जनपद पंचायत विजयपुर के सीईओ अशोक शर्मा को कारण बताओ नोटिस जारी किए हैं। कलेक्टर ने तीन दिवस में संबंधित अफसरों से स्पष्टीकरण मांगते हुए संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है।

Share it
Top