Home > Archived > लगातार हो रही लूट की घटनाओं से दहशत में लहारवासी

लगातार हो रही लूट की घटनाओं से दहशत में लहारवासी

[उदयराज चौहान] आलमपुर। लहार क्षेत्र में लूट की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही। लहार क्षेत्र में लगातार दिनदहाड़े हो रही इन घटनाओं से लहार क्षेत्रवासियों में दहशत व्याप्त है। लोग दोपहर में सड़कों पर चलने से कतराने लगे हैं। उन्हें भय सताने लगा है कि वह घर से निकलने के पश्चात अपने गंतव्य तक सुरक्षित पहुंच पाएंगे या नहीं? लहार विधानसभा क्षेत्र में विगत दिनों से लुटेरे इतने सक्रिय हैं कि लहार क्षेत्र में पिछले 10-12 दिनों में लूट की लगातार तीन वारदातें हो चुकी हैं और पुलिस एक का भी सुराग नहीं लगा सकी है।


मामला नं. एक
26 मई को दोपहर को दबोह कस्बे में गल्ला खरीदी का कारोबार करने वाले देवेन्द्र गुप्ता बिड़ला जब लहार बैंक से लगभग छह लाख रुपए निकालकर दबोह की ओर आ रहे थे तभी लहार-दबोह मुख्य मार्ग पर अज्ञात तीन हथियारबंद बदमाशों ने उक्त गल्ला व्यापारी से कट्टे की नोंक पर लगभग छह लाख रुए लूट लिए और मौके से मोटर साइकिल पर बैठकर रफूचक्कर हो गए। चर्चा है कि पुलिस इस लूट को संदिग्ध मान रही है और जांच में जुटी है।
मामला नं. दो
कस्बा आलमपुर में बस स्टैण्ड से पुलिया तिराहे की ओर जाने वाले मार्ग पर बनी एक दुकान में फुटकर गल्ला खरीदने का कारोबार करने वाले राधागोविन्द कुदरिया की दुकान में गत तीन जून को दोपहर में तीन अज्ञात हथियारबंद बदमाश घुस आए और व्यापारी की कट्टे की बटों से मारपीट वे व्यापारी से पांच हजार रुपए लूटकर ले गए।
मामला नं. तीन
पंडोखर थाना क्षेत्रांतर्गत आने वाले ग्राम उड़ी के अमरसिंह राठौर अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ गत चार जून को लहार से मोटर साइकिल से अपने गांव वापस आ रहे थे कि दोपहर लगभग दो बजे मसेरन के पास तीन अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने मोटर साईकिल सवार दंपति को कट्टा अड़ाकर महिला के आभूषण लूट लिए और मौके से भाग खड़े हुए।
पुलिस की निष्क्रियता
लोगों का कहना है कि लहार क्षेत्र की पुलिस कुछ समय से निष्क्रिय बनी हुई है। पुलिस की निष्क्रियता का लाभ उठाकर बदमाश लूट की वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। लहार क्षेत्र की पुलिस जब तक सक्रियता से काम नहीं करेगी तब तक लहार क्षेत्र में आपराधिक घटनाएं थमना मुश्किल हैं।

Share it
Top