Home > Archived > तीसरे मोर्चे को समर्थन दे सकती है कांग्रेसः खुर्शीद

तीसरे मोर्चे को समर्थन दे सकती है कांग्रेसः खुर्शीद

तीसरे मोर्चे को समर्थन दे सकती है कांग्रेसः खुर्शीद

फरुखाबाद | केन्द्रीय विदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने कहा कि लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद जरूरत पड़ने पर कांग्रेस तीसरे मोर्चे को भी सरकार बनाने के लिये समर्थन देने या लेने पर विचार कर सकती है। खुर्शीद ने अपने पुश्तैनी गांव पितौरा में कहा कि चुनाव परिणाम आने के बाद अगर जरूरी हुआ तो कांग्रेस तीसरे मोर्चे को भी सरकार बनाने के लिये समर्थन देने पर विचार कर सकती है। इतना ही नहीं मोर्चे का समर्थन लेने पर विचार किया जा सकता है।
उन्होंने राम मंदिर आंदोलन का जिक्र करते हुए कहा कि जब ‘भगवान की लहर’ कांग्रेस को रोक नहीं पायी तो ‘मोदी लहर’ कैसे रोकेगी? उन्होंने दावा किया कि केन्द्र में किसी भी हालत में भाजपा की सरकार बनने की कोई सम्भावना प्रतीत नहीं होती है और मोदी भाजपा के लिये बड़ी समस्या के रूप में सामने आने वाले हैं।
खुर्शीद ने कहा कि मोदी ने वाराणसी से नामांकन करने के फौरन बाद अपने बयान में कहा था कि गंगा ने उन्हें बनारस बुलाया है लेकिन वह गंगा के दर्शन-पूजन करने नहीं पहुंचे। विदेश मंत्री ने आरोप लगाया कि चुनाव आयोग की तमाम तैयारियों के बावजूद मतदान बूथों पर सुरक्षा व्यवस्था ढीली रही जिसकी वजह से सपा ने मनमानी की। उन्होंने कहा कि फरुखाबाद के अलीगंज विधानसभा क्षेत्र के 1015 मतदान बूथों पर धांधली की सूचनाएं मिली हैं जिसकी शिकायत चुनाव आयोग से की गयी है।
उन्होंने सवाल उठाया कि क्या मानवता के आधार पर अच्छा काम किया जाना आचार संहिता का उल्लंघन है। किसी के घर में आग लगी हो और प्रत्याशी उसे बुझाकर पीड़ित की मदद करे तो क्या आचार संहिता का उल्लंघन हुआ? खुर्शीद ने आरोप लगाया कि आयोग ने केन्द्रीय बलों का सदुपयोग नहीं किया। पिछले चुनावों में बूथों पर केन्द्रीय बलों को तैनात किया गया था जबकि इस बार ऐसा ना करके उन्हें रिजर्व में रखा गया।

Share it
Top