Home > Archived > ताजमहल में भी गोडसे का मंदिर बनने पर आपत्ति नहीं :आजम खान

ताजमहल में भी गोडसे का मंदिर बनने पर आपत्ति नहीं :आजम खान

ताजमहल में भी गोडसे का मंदिर बनने पर आपत्ति नहीं :आजम खान

कानपुर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का मंदिर बनाए जाने संबंधी खबरों पर व्यंग्य करते हुए उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी सरकार में कैबिनेट मंत्री आजम खान ने कहा कि हर जिले में गोडसे का मंदिर बनवाने पर भी हमें कोई आपत्ति नहीं है बल्कि अगर यह ताजमहल में बनता है तो भी हमें कोई एतराज नहीं है। आजम खान ने कल एक निजी कार्यक्रम में हिन्दू महासभा द्वारा गोडसे का मंदिर बनवाने के सवाल पर तंज़ कसते हए कहा, ‘’ महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे का मंदिर किसी एक जगह नहीं बल्कि पूरे देश में हर जिले में बनना चाहिये, इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होगी । बस किसी मस्जिद को तोड़कर मंदिर नहीं बनना चाहिये । अगर ताजमहल में भी गोडसे का मंदिर बनाने की मांग की जाती है तो वहां भी इसकी अनुमति दी जाए, इसमें किसी को कोई एतराज नहीं होगा । गोडसे को तो ‘भारत रत्न’ भी दिया जा सकता है। ’’धर्मान्तरण के मुददे पर नगर विकास मंत्री खान ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग पहले मुख्तार अब्बास नकवी और शाहनवाज हुसैन की घर वापसी कराएं, इसके बाद बाकी लोगों का धर्म बदलवाया जाए । उन्होंने कहा कि प्रदेश में माहौल खराब नहीं होने दिया जाएगा और अगर कोई ऐसा करने की कोशिश करता है तो उसके खिलाफ कानून अपनी कार्रवाई करेगा । राज्यपाल राम नाइक के बयानों के बारे में पूछे गये सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राज्यपाल महामहिम हैं उन्हें चौंकाने वाले बयान नहीं देने चाहिये ।



Share it
Top