Home > Archived > अटल जी ने हमेशा मूल्यों की राजनीति की: भारती

अटल जी ने हमेशा मूल्यों की राजनीति की: भारती

शिवपुरी । भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस से एक दिन पूर्व बुधवार को सुशासन दिवस मनाया गया। इस अवसर पर शासकीय सेवकों ने सुशासन की शपथ ली। इस मौके पर वक्ताओं ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। सुशासन दिवस का जिला स्तरीय कार्यक्रम सामुदायिक भवन, गांधी पार्क शिवपुरी में पोहरी विधायक प्रहलाद भारती के मुख्य आतिथ्य में समन्न हुआ।
कार्यक्रम में मुख्य वक्ता के रूप में पुरुषोत्तम गोतम, जिलाधीश राजीव दुबे, पुलिस अधीक्षक एम.एल. छारी, पूर्व विधायक माखनलाल राठौर, अपर कलेक्टर जेड.यू. शेख, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डी.के. मौर्य, अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी डी.के. जैन, डिप्टी कलेक्टर मुकेश शर्मा सहित अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।
इस अवसर पर विधायक श्री भारती ने कहा कि अटल जी ने 40 वर्षों तक विपक्ष में रहकर भी मूल्यों की राजनीति की। उन्होंने कभी भी सिद्धांतों से समझौता नहीं किया। अटल जी ने पं. दीनदयाल उपाध्याय के सपनों को धरातल पर उतारने के लिए गांव, किसान एवं मजदूरों के कल्याण के लिए किसान क्रेडिट कार्ड, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, राष्ट्रीय नदी जोड़ो जैसी अनेक योजनाएं शुरू कीं।
श्री भारती ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा भी अटल जी के व्यक्तित्व व कृतित्व से प्रेरणा लेकर प्रदेश में सुशासन के क्षेत्र में बेहतर कार्य किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अटल जी ने हमेशा समाज के सर्वहारा वर्ग की चिंता की। ऐसे महापुरुष जो स्वयं के लिए नहीं बल्कि दूसरों के लिए जीते हैं, उन्हें आने वाली पीढ़ी हमेशा याद करती रहेगी। उन्होंने कहा कि हम सभी लोग आज प्रतिज्ञा लें कि हमें जो भी कार्य दिया गया है उसे पूरी ईमानदारी, निष्ठा और सेवा भावना के साथ सम्पादित करेंगे।
मुख्य वक्ता श्री गोतम ने कहा कि ग्वालियर अंचल के लिए यह गौरव की बात है कि अटल जी इस क्षेत्र से हैं। उन्होंने अटल जी के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वह बहुआयामी व्यक्तित्व के धनी हैं। वे विराट एवं संवेदनशील होने के साथ-साथ कवि हृदय भी हैं और वह एक शिखर पुरुष के रूप में जाने जाते हैं। उनके प्रधानमंत्री कार्यकाल में परमाणु शक्ति को बढ़ावा मिला। श्री गोतम ने कहा कि अटल जी ने तत्कालीन विदेशमंत्री के रूप में संयुक्त राष्ट्रसंघ में अपनी राष्ट भाषा हिन्दी में भाषण दिया, जिसे लोगों ने पूरी गंभीरता के साथ सुना।
पूर्व विधायक माखनलाल राठौर ने कहा कि अटल जी के कार्यकाल में ऐतिहासिक कार्य किए गए। भारत सरकार ने उन्हें 'भारत रत्नÓ देने का निर्णय भी लिया है। जिला कलेक्टर राजीव दुबे ने सुशासन दिवस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सुशासन दो शब्दों से मिलकर बना है, जिसका अर्थ नीतियों का क्रियान्वयन करना है। उन्होंने कहा कि जनमुखी प्रशासन का आशय यह है कि शासकीय सेवक जनता के बीच पहुंचकर उनकी समस्याओं को सुने एवं निराकरण करे। उन्होंने शासकीय सेवकों से कहा कि आज उन्हें जो शपथ दिलाई गई है, उसके तहत वह सुशासन के उच्चतम मापदण्डों को स्थापित करने सदैव संकल्पित रहें।
अपर कलेक्टर श्री शेख ने कहा कि अटल जी ने देश में राजनीति के क्षेत्र में जो मापदण्ड स्थापित किए, उनक अनुशरण करने की आवश्यकता है। कार्यक्रम में डिप्टी कलेक्टर मुकेश शर्मा ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन गिरीश मिश्रा एवं अरुण अपेक्षित ने किया। इस अवसर पर विधायक श्री भारती ने उपस्थित लोगों को सुशासन की शपथ दिलाई।

Share it
Top