Home > Archived > अब हर पांच किलोमीटर पर होगा एक हाईस्कूल

अब हर पांच किलोमीटर पर होगा एक हाईस्कूल

ग्वालियर। अगले शिक्षा सत्र में ऐसे सभी शा. माध्यमिक स्कूलों का हाईस्कूल के रूप में उन्नयन किया जाएगा, जिनकी दूरी हायर सेकेण्डरी और हाईस्कूल से पांच किलोमीटर या इससे अधिक है।
जानकारी के अनुसार मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा हाल ही में जारी किए गए निर्देशों के अनुसार अब हर पांच किलोमीटर की दूरी पर एक हाईस्कूल या हायर सेकेण्डरी स्कूल होना आवश्यक है। इस सम्बंध में शुक्रवार को शा. पद्मा कन्या उ.मा. विद्यालय में जिले के संकुल प्राचार्यों की बैठक आयोजित की गई, जिसमें डीईओ, डीपीसी, एडीपीसी, बीईओ, बीआरसीसी आदि अधिकारी भी उपस्थित थे।
बैठक में डीईओ मोहर सिंह सिकरवार ने सभी संकुल प्राचार्यों को ऐसे सभी शा. माध्यमिक स्कूलों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए, जिनकी दूरी हायर सेकेण्डरी या हाईस्कूल से पांच किलोमीटर या इससे अधिक है।
बाद में ऐसे सभी माध्यमिक स्कूलों की सूची स्कूल शिक्षा विभाग म.प्र. शासन भोपाल को भेजी जाएगी। तत्पश्चात अगले शिक्षा सत्र तक ऐसे सभी माध्यमिक स्कूलों को हाईस्कूल के रूप में परिवर्तित किया जाएगा।
बैठक में संकुल प्राचार्यों से माध्यमिक, हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों में कार्यरत विषय समूह वार अतिशेष शिक्षकों की सूची का सत्यापन भी कराया गया। इन सभी अतिशेष शिक्षकों को आवश्यकता वाले स्कूलों में स्थानांतरित किया जाएगा। इसके अलावा बैठक में संकुल प्राचार्यों को तीन दिवस में शत प्रतिशत छात्रों की छात्रवृत्ति स्वीकृत कर राशि संबंधित छात्रों के बैंक खातों में पहुंचाने, छात्र-छात्राओं एवं नागरिकों को साथ लेकर मतदाता जागरुकता अभियान चलाने और नगरीय निकाय चुनाव के लिए जिन स्कूलों में मतदान केन्द्र बनाया गया है, वहां सभी जरूरी व्यवस्थाएं जुटाने के निर्देश भी दिए गए। 

Share it
Top