Home > Archived > अफजल को फांसी, शहीदों के परिजनों को मिली राहत

अफजल को फांसी, शहीदों के परिजनों को मिली राहत

नई दिल्ली | संसद हमले में शहीद हुए लोगों के परिजनों का कहना है कि अफजल गुरु को और पहले ही फांसी दे दी जानी चाहिए थी, लेकिन इसके साथ ही वे इसे एक स्वागत योग्य कदम बता रहे हैं।
हमले में मारे गए संसद के सुरक्षाकर्मी मतबर सिंह नेगी के बेटे गौतम नेगी ने कहा कि हमने सुबह उठते ही यह खबर सुनी और हम सरकार के फैसले से काफी खुश हैं। हालांकि यह और पहले हो जाना चाहिए था लेकिन यह स्वागत योग्य कदम है। सिर्फ सरकार ही इस देरी की वजह बता सकती है। 13 दिसम्बर, 2001 को संसद पर हुए हमले में मारी गईं कमलेश यादव के पति अवदेश ने कहा, ''अब हमें राहत मिली है।'' इस हमले के मुख्य दोषी अफजल को शनिवार सुबह फांसी दे दी गई। 13 दिसम्बर, 2001 को पांच हथियारबंद पाकिस्तानी आतंकवादी संसद परिसर में घुस आए थे और उसके बाद उन्होंने गोलीबारी शुरू कर दी थी। इस घटना में नौ लोग शहीद हुए थे।


Share it
Top