Home > Archived > क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान, नहीं घटेगी EMI

क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान, नहीं घटेगी EMI

क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान, नहीं घटेगी EMI

नई दिल्‍ली | रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने अपनी नई क्रेडिट पॉलिसी$img_title का ऐलान करते हुए मुख्य ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. इससे ईएमआई में कमी की आस लगाने वालों को निराशा हाथ लगी है. आरबीआई ने आज मौद्रिक नीति का ऐलान करते हुए सीआरआर में 0.25 फीसदी की कमी कर दी है, जबकि रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है. अब सीआरआर 4.75 फीसदी से घटकर 4.5 फीसदी हो गया है. सीआरआर वो रकम है जो बैंकों को आरबीआई के पास रखनी होती है. रिजर्व बैंक के इस फैसले से बाजार में 17 हजार करोड़ रुपये ज्यादा आएंगे.आरबीआई के फैसले का सीधा मतलब यह हुआ है कि आपके होम, कार लोन या दूसरे लोन की ईएमआई कम होने वाली नहीं है. हालांकि उम्‍मीद थी कि सरकार के तीन बड़े फैसलों से प्रभावित होकर आरबीआई अच्छे होते आर्थिक माहौल के बीच विलेन नहीं बनेगा. आरबीआई ने तिमाही की मॉनीटरी पॉलिस की घोषणा करते हुए कहा कि महंगाई का खतरा बरकरार है इसलिए ब्‍याज दरों में छूट नहीं दी जा सकती. इसी के साथ बैंक ने कहा कि सरकार ने दाम घटाने का फैसला देरी से लिया. ये फैसला अप्रैल में लिया जाना चाहिए था. दरअसल, अगस्त में महंगाई दर 7.5 फीसदी के पार जा चुकी है. सितंबर में महंगाई दर और बढ़ेगी क्योंकि सरकार ने डीजल की कीमत में पांच रुपये की बढ़ोतरी कर दी है. ऐसे में बाजार में ज्यादा पैसा डालने से लोग ज्यादा खरीदारी करेंगे और ज्यादा खरीदारी से महंगाई बढ़ने के आसार बढ़ जाएंगे. भले ही रिजर्व बैंक ने आज ब्याज दरों में कटौती न की हो, लेकिन आर्थिक विशेषज्ञों के मुताबिक अगले कुछ महीनों में आरबीआई अपने रुख में नरमी ला सकता है. सरकार भी फिर से बनते हुए आर्थिक माहौल को बिगड़ने नहीं देना चाहेगी. आज आपके घर की ईएमआई कम न हुई हो, कार लोन अभी भी उतना ही देना पड़ेगा; लेकिन साल के अंत तक अच्छी खबर आ सकती है. ऐसे में दीवाली भले ही चमकदार न हो, लेकिन न्यू ईयर पर जश्न मनाने का मौका मिल सकता है.


Share it
Top