Home > Archived > करोसिन एवं खाद्य सामग्री वितरण में धांधलीउपभोक्ताओं में नाराजगी, पार्षदों ने की कार्रवाई की मांग

करोसिन एवं खाद्य सामग्री वितरण में धांधलीउपभोक्ताओं में नाराजगी, पार्षदों ने की कार्रवाई की मांग

मिहोना l मिहोना नगर पंचायत में इन दिनों उपभोक्ता भण्डारों एवं सेवा सहकारी समितियों के संचालकों द्वारा केरोशिन एवं गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने बालों की खाद्याय सामग्री (गेहूं, चावल, शक्कर) आदि की काला बाजारी की जा रही हैं। इससे उपभोक्ताओं में नाराजगी हैं तथा कुछ पार्षदों ने कार्रवाई करने की मांग की हैं।प्राप्त जानकारी के अनुसार केरोसिन का वितरण दो या तीन माह बाद किया जाता हैं तथा गरीब लोगों को चावल व शक्कर त्योहारों पर भी वितरित नहीं की जाती हैं तथा ए.पी.एल. का गेहूं सरेआम बाजार में ब्लेक में बेच दिया जाता हैं। जिससे नागरिकों में शेष प्राप्त है। श्रीमती श्यामा देवी पार्षद ने जिलाधीश से खाद्य सामग्री तथा केरोसिन वितरण में लापरवाही करने वाले उपभोक्ता भण्डार संचालकों एवं सेवा सहकारी संस्था के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की हैं। उक्त सेल्समेन केरोसिन को डीजल बनाकर उ.प्र. के सीमावर्ती ग्रामीण अंचलों मेें 40-40 रुपए प्रति लीटर के हिसाब से बेचा जा रहा हैं। उपभोक्ता गण बूंद-बूंद केरोसिन के लिए मोहिताज हैं। कुछ गरीब उपभोक्ता केरोसिन लेने के लिए जाते हैं, तो सेल्स मैनों द्वारा उनके साथ अभद्रता का व्यवाहर किया जाता हैं। नागरिकों ने भी खाद्यय सामग्री तथा केरोसिन वितरण में धांधली करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की हैं।

Share it
Top