Home > Archived > अपनों के जाल में घिरी दिखेगी सरकार

अपनों के जाल में घिरी दिखेगी सरकार

अपनों के जाल में घिरी दिखेगी सरकार


$img_titleनई दिल्ली।
संसद में बजट सत्र के दूसरे चरण में सरकार अपने ही कठघरे में खड़ी होगी। वित्त मंत्रालय के आर्थिक सलाहकार कौशिक बसु के बयानों को लेकर विपक्ष पहले ही दिन सरकार पर हमला बोलने को तैयार है।
भाजपा ने साफ कर दिया है कि देश के इन हालात पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को खुद सफाई देनी होगी। सत्र की रणनीति तय करने के लिए सोमवार को भाजपा व राजग की बैठकें होने जा रही हैं। इनमें विपक्ष अपनी रणनीति को अंतिम रूप देगा। भाजपा की बैठक में राज्यसभा में उप नेता तय करने पर भी चर्चा होगी।


बजट सत्र में साल भर के लिए वित्तीय लेखा-जोखा पेश करने की नई उम्मीद बंधाने वाली सरकार पर उसके वित्त मंत्रालय के सलाहकार के बयान भारी पड़े हैं। कौशिक बसु के बयान के बाद विपक्ष को सरकार को घेरने का बड़ा मुद्दा हाथ लग गया है। वह मंगलवार को दोनों सदनों में सरकार को कठघरे में खड़ा करेगा।

भाजपा प्रवक्ता प्रकाश जावड़ेकर ने कौशिक के छह माह में महंगाई घटाने के नए बयान पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि वह एक तरफ तो वह डीजल में सब्सिडी घटाने की बात कर रहे है और दूसरी तरफ महंगाई घटाने की। यह दोनों विरोधाभासी है। सरकार के पास कोई जादू की छड़ी नहीं है। बेहतर होगा कि प्रधानमंत्री खुद संसद में पूरी स्थिति साफ करें।

भाजपा संसद में ओडिशा एवं छत्तीसगढ़ की नक्सल गतिविधियों और केरल में दो मछुआरों को इटली के एक जहाज के गार्डों के द्वारा मारे जाने के मुद्दे भी उठाएगी। जावड़ेकर ने नक्सलियों के ओडिशा में विधायक एवं विदेशी नागरिकों के अपहरण के साथ छत्तीसगढ़ में जिलाधिकारी के अपहरण को गंभीर और चिंताजनक बताते हुए केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया है।

जावड़ेकर ने कहा कि अतिरिक्त सॉलिसीटर जनरल एचपी रावल के भारतीयों के बजाए दोषी इटली के गार्डो के प्रति नरम रुख अपनाना किसी के दबाव में या किसी के कहने पर दिया गया बयान है।

सोमवार को भाजपा एवं राजग नेताओं की बैठक में सत्र की रणनीति तय की जाएगी। भाजपा संसदीय दल कार्यकारिणी की बैठक में राज्यसभा में उप नेता तय करने के मुद्दे पर भी चर्चा होगी। एसएस अहलूवालिया का कार्यकाल 2 अप्रैल को समाप्त होने से रिक्त हुए इस पद पर भाजपा को नया नेता चुनना है। अहलूवालिया अभी झारखंड से राज्यसभा उम्मीदवार हैं, लेकिन यह तय नहीं है कि उनको ही फिर से उप नेता बनाया जाएगा।

Share it
Top